Thursday , March 30 2017
Home / Khaas Khabar / भाजपा के बाद सपा का सांप्रदायिक नज़रिया: PM मोदी की बैठने की मुद्रा पर उठाए सवाल

भाजपा के बाद सपा का सांप्रदायिक नज़रिया: PM मोदी की बैठने की मुद्रा पर उठाए सवाल

उत्तर प्रदेश में आज अंतिम चरण के लिए मतदान चल रहा है। इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंदिर में पूजा के लिए बैठने के तरीके को लेकर विवाद शुरू हो गया है। समाजवादी की प्रवक्ता पंखुड़ी पाठक ने पीएम की एक तस्वीर ट्वीट की है जिसमें वो मंदिर में नमाज की मुद्रा में बैठे हैं।

पंखुड़ी ने लिखा है, “नरेंद्र मोदी मंदीर में नमाज पढ़ते हुए लेकिन कोई सवाल नहीं।” इस ट्वीट को पंखुड़ी ने कुछ मीडिया हाऊस और पत्रकारों को भी टैग किया है। इसपर जी न्यूज ने के एंकर रोहित सरदाना ने लिखा, “पंखुड़ी पाठक टीवी चैनलो ने अखिलेश के पोज पर सवाल नहीं उठाए थे। जिन्होंने किया था उसे पास ट्रोल करें। और अब आप खुद ट्रोल जैसा बर्ताव न करें।

https://twitter.com/sardanarohit/status/838946942889549824/photo/1?ref_src=twsrc%5Etfw

दरअसल, यह सारा विवाद तब शुरू हुआ था जब पिछले दिनों अखिलेश यादव ने काशी विश्वनाथ मंदिर में माथा टेका और पूजा अर्चना की। लेकिन अखिलेश यादव पूजा के दौरान जिस मुद्रा में बैठे थे उसको लेकर कुछ लोगों ने उन्हें निशाने पर ले लिया।

भाजपा के एक नेता अमित माल्‍विय ने सबसे पहले अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया जिसमें उन्‍होंने अखिलेश यादव के पूजा करने का वीडियो अपलोड कर दिया। साथ ही उन्होंने लिखा, “हार के डर से ही सही, अखिलेश, राहुल मंदिर तो गए, कुछ नया सीखा।” देखते-ही-देखते यह ट्वीट वायरल हो गया। कुछ लोगों ने तो यहां तक लिख दिया कि अखिलेश हिंदू होकर मुसलमानों जैसा बर्ताव कर रहे हैं और यह तक पता नहीं की मंदिर में कैसे जाया जाता है।

हालांकि शेफाली विद्या नाम की ट्वीटर हैंडलर ने पंखुड़ी पाठक के ट्वीट पर सवाल उठाया है। उन्होंने लिखा है कि नरेंद्र मोदी की यह तस्वीर गया के एक बौद्ध मंदीर की है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT