Saturday , July 29 2017
Home / Social Media / …तो इसलिए फेसबुक तमाम न्यूज़ पोर्टल्स के FB पेज ब्लॉक कर रहा है!

…तो इसलिए फेसबुक तमाम न्यूज़ पोर्टल्स के FB पेज ब्लॉक कर रहा है!

फ़ेसबुक किसी को भी अपने ग्लोबल कम्युनिटी पॉलिसीज को छूने तक का अधिकार नही देता, गड़बड़ करने की तो बात ही दूर है। फ़ेसबुक, गूगल या अमेज़ॉन जैसी वेबसाइट्स मैन्युअल सेटिंग्स पर नही, मशीन लर्निंग पर चलते हैं, जिसे आर्टिफिशल इंटेलिजेंस (A.I.) भी कहते हैं। इस AI का एक्सेस फ़ेसबुक में सिर्फ दो या तीन ही लोगों के पास है, जिसमें मार्क ज़ुकरबर्ग तक शामिल नहीं है, इसे जब फ़ेसबुक का CEO तक नही छू सकता तो फ़ेसबुक के किसी हिंदुस्तानी ब्राह्मण अधिकारी या उसके साक्षात ब्रह्मा के भी बस का नही कि जानबूझ कर वो किसी पेज को रोक ले।

नॅशनल दस्तक़ के साथ जो हुआ वो कतई कम्युनिटी स्टैण्डर्ड का नही बल्कि बिल्कुल ही अलग मामला है, इसीलिये उन्हें समझ ही नही आ रहा कि उनसे क्या ग़लती हो गयी। चूंकि फ़ेसबुक, यूट्यूब की तरह आपसे रेवेन्यू शेयर नही करता, इसलिये वह हर उस पेज की लिंक शेयरिंग ब्लॉक करता है जो फ़ेसबुक का ट्रैफिक #लगातार दूसरी वेबसाइट पर लेकर जाये। मैंने नॅशनल दस्तक़ की वेबसाइट का मुआयना किया है, 3 जुलाई से लेकर पिछली हर पोस्ट पे वे टेक्स्ट कम लिखते हैं और हर पोस्ट में लिंक लगाकर फ़ेसबुक का ट्रैफिक बाहरी वेबसाइट जैसे उनके यूट्यूब चैनल और nationaldastak.com के अपने आर्टिकल पर डाइवर्ट कर ले जाते हैं, इस ट्रैफिक चोरी को फेसबुक के A.I. ने पकड़ कर उसके पेज को सस्पेंड कर दिया क्योंकि यह फ़ेसबुक के पेज इस्तेमाल के नियमों का खुला उल्लंघन है।
पेज पर लिंक शेयरिंग कभी कभी ही करनी चाहिए, मसलन दो फ़ोटो पोस्ट डालिये, फिर दो तीन टेक्स्ट पोस्ट डालिये फिर इक्का-दुक्का लिंक डालिये, इससे फ़ेसबुक कभी आपको नही रोकेगा।

सिर्फ अखबारिया खबर लिखने से काम नही चलेगा साथियों, फ़ेसबुक जैसे नये माध्यम को इस्तेमाल करने के लिए, टेक्नोलॉजी और ग्लोबल कम्युनिटी स्टैण्डर्ड की समझ पर पकड़ भी आवश्यक है।
फ़ेसबुक, नॅशनल दस्तक़ को ऑटोमैटिकली 10 जुलाई से लिंक शेयर करने की इजाज़त लौटा देगा, लेकिन इन्होंने दोबारा यही नासमझी की तो पूरा पेज बंद तक कर देगा यह A.I., क्योंकि आप फ़ेसबुक का #कीमती ट्रैफिक दूसरे साइट्स पर लगातार डाइवर्ट करने का गुनाह कर रहे होंगे।

मैं ये सब कैसे जानता हूँ, क्योंकि मैं 15 साल से साइबर सिक्योरिटी का एक्सपर्ट रहा हूँ, मेरे सर्वर कभी कोई हैक नही कर सका, और मैं उन बहुत कम लोगों में से एक हूँ जो साइबर क्राइम और आर्टिफिशल इंटेलिजेंस के विशेषज्ञ हैं।
कई कॉर्पोरेट्स सहित महाराष्ट्र पुलिस का भी साइबर क्राइम और डेटा सिक्योरिटी एक्सपर्ट रहा हूँ। इसलिये आप में से किसी को भी जरूरत हो तो मुझसे सिक्योरिटी और पॉलिसीज पर मुफ़्त राय ले सकते हैं, बशर्ते आपका प्रोजेक्ट समाज के उत्थान के लिए काम कर रहा हो।”

  • राहुल शेंडे (आईटी एक्सपर्ट)

 

 

 

TOPPOPULARRECENT