Tuesday , August 22 2017
Home / Khaas Khabar / मिसाल: बाढ़ में लोगों के लिए खोल दी मस्जिदें, रास्ते में फंसे यात्रियों के लिए किया खाने और रहने का इंतज़ाम

मिसाल: बाढ़ में लोगों के लिए खोल दी मस्जिदें, रास्ते में फंसे यात्रियों के लिए किया खाने और रहने का इंतज़ाम

मध्यप्रदेश में आई बारिश रायसेन जिले में आफत की बरसात बनकर बरसी । इस आफत की बारिश के दौरान बाढ़ में फंसे यात्रियों को मदद के लिए मुस्लिम समाज ने मस्जिदों में रहने ठहरने और खाने का इंतजाम कर साम्प्रदायिक सदभाव की मिसाल कायम की है। गुरुवार दोपहर से हो रही मूसलाधार बारिश से रायसेन की संपर्क तीनों तरफ़ से कट गया है ।

 

जिला मुख्यालय को भोपाल राजधानी से जोड़ने वाले सहित सभी रास्ते बंद हो गये है। रायसेन दरगाह के पास रीछन नदी उफान पर होने से बुंदेलखंड को राजधानी भोपाल से जोड़ने वाला मुख्य मार्ग बंद हो गया । वही रायसेन विदिशा और भोपाल – सागर मार्ग सहित आसपास के सभी गांवों से रायसेन का संपर्क कट गया ।

 

गुरुवार से रास्तों में फंसे यात्रियों के लिए जब कोई मदद नहीं पहुची तो कुछ स्थानीय लोगो ने आगे आकर इनके लिए चाय,खाने,बच्चों के दूध का इंतज़ाम किया । मुस्लिम् समाज के लोगों ने पास की मस्जिद भी यात्रियों को पानी और फ्रेस होने के लिए खुलवा दी । वही सड़क पर पानी और पुल के नजदीक तक जाने के लिये कुछ लोग जान हथेली पर लेकर पानी में बेरोकटोक आते जाते नजर आये।

 

मुस्लिम समाज के लोगों ने दरगाह शरीफ़ वाली मस्जिद , मस्जिद सिराज कालोनी व मस्जिद उमर को तमाम लोगों को आराम करने के लिए खोल दिया गया साथ ही ऐलान करवा दिया कि मस्जिदें हर मज़हब के लिए हैं तमाम भाई आराम कर सकते हैं ।

 

TOPPOPULARRECENT