Sunday , August 20 2017
Home / India / वसुंधरा सरकार गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर की CBI जांच को तैयार, राजपूत वोट बैंक बचाने की कवायद

वसुंधरा सरकार गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर की CBI जांच को तैयार, राजपूत वोट बैंक बचाने की कवायद

राजस्थान की वसुंधरा राजे सरकार ने गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर की सीबीआई जांच का फ़ैसला लिया है । कहा जा रहा है कि बीजेपी पारंपरागत राजपूत वोटबैंक ना खिसक जाए इस डर से बीजेपी सरकार ने ये फ़ैसला लिया है ।

आनंदपाल को 24 जून को एनकाउंटर में मार गिराया गया था। इस एनकाउंटर के बाद राजस्थान में आंदोलन शुरू हो गया था। गैंगस्टर के परिवार ने इसे फर्जी एनकाउंटर करार दिया था, इसके अलावा विपक्षी नेता भी इस पर सवाल खड़े करते हुए सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे।

प्रदेश सरकार ने पहले मामले की जांच के लिए विशेष जांच दल गठित करने का प्रस्ताव दिया था, लेकिन आंदोलनकारियों ने इसे खारिज कर दिया था। 12 जुलाई को आनंदपाल के अंतिम संस्कार से पहले उसके गृह जिले नागौर में लोगों की भीड़ हिंसक हो गई थी।

पुलिस और आंदोलनकारियों में झड़प के दौरान एक व्यक्ति की गोलियां लगने से मौत हो गई थी, जबकि 16 पुलिसकर्मियों समेत तमाम लोग घायल हो गए थे। राजपूत समाज के लोगों को कहना था कि परिवार की ओर से सीबीआई जांच की मांग पूरी न होने तक शव लेने से इनकार कर दिया गया था। इसके बाद पुलिस ने जबरन आनंदपाल का अंतिम संस्कार कराया।

क्षेत्रीय समाचार पत्रों के मुताबिक आनंदपाल की हत्या के बाद हिंसा और तोड़फोड़ के मामले में 12,000 राजपूतों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। बीजेपी सूत्रों के मुताबिक स्टेट यूनिट को यह इनपुट मिले हैं कि जनसंघ के दौर से ही हमें सपॉर्ट करने वाले राजपूत समाज में इस एनकाउंटर के बाद से नाराजगी है जिसके बाद वसुंधरा सरकार ने यूटर्न लेते हुए सीबीआई जांच को मंजूरी दी है ।

TOPPOPULARRECENT