Thursday , October 19 2017
Home / Khaas Khabar / बधाई! चाटुकारिता के दौर में पत्रकारिता को बचाने वाले रवीश कुमार को मिला कुलदीप नैय्यर पुरस्कार

बधाई! चाटुकारिता के दौर में पत्रकारिता को बचाने वाले रवीश कुमार को मिला कुलदीप नैय्यर पुरस्कार

मौजूदा हालात में जब पत्रकारिता की विश्वसनीयत कटघरे में आ चुकी है ऐसे में पत्रकारिता के ज़रिए आम लोगों की आवाज़ बनने वाले रवीश कुमार को पहले कुलदीप नैय्यर सम्मान से नवाजा गया। सम्मान के तौर पर उन्हें एक लाख रुपए का चेक व प्रतीक चिह्न दिया गया।

गाधी शांति प्रतिष्ठान की ओर से आईआईसी में आयोजित समारोह में मौजूद वरिष्ठ पत्रकार कुलदीप नैय्यर ने कहा कि यह पुरस्कार ऐसे समय में दिया जा रहा है जब यूपी में योगी आदित्यनाथ की ताजपोशी हुई है।

कुलदीप नैय्यर ने कहा कि यूपी में वह अलग विचारधारा के समझे जाते हैं और एक जात के खिलाफ खुलेआम कहते रहे हैं। उनकी पार्टी को जनादेश मिला है और इसका मैं आदर करता हूं लेकिन मौजूदा समय में एक खास वर्ग में भय का वातावरण है, उस वातावरण को दूर करने की जिम्मेदारी भी सरकार की है।

पत्रकार रवीश कुमार ने पुरस्कार के लिए शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि यह दौर संभावनाओं को तलाशने का है। हम हर समय इस तलाश में हैं कि कहां-कहां संभावनाएं बची हुई हैं। वर्तमान में उन पत्रकारों को कैसे भूल सकते हैं जो संभावनाओं को बचाने में लगे हैं, भले ही उनकी संभवनाएं समाप्त हो जाएंगी लेकिन आने वाले वक्त में दूसरों के लिए बड़ा उपकार करेंगे। जब भी सत्ता की चाटुकारिता से ऊबे हुए या धोखा खाए पत्रकारों की नींद टूटेगी, ऐसे पत्रकारों की बचाई हुई संभावनाएं ही उनका सहारा बनेंगी।

 

TOPPOPULARRECENT