Friday , May 26 2017
Home / Politics / मदरसों को आतंक से जोड़ने वालों को ये हकीक़त जान लेना चाहिए

मदरसों को आतंक से जोड़ने वालों को ये हकीक़त जान लेना चाहिए

आए दिन कोई सिरफिरा मुंह उठाकर चला आता है इस्लाम, मुसलमान और मदारिसों को बुरा धर्म, बुरे लोग और बुरा शैक्षणिक संस्थान साबित करने, अब दिग्विजय सिंह को ही देख लीजिए, खुद की औकात चवन्नी मात्र से है और मदरसों पर टिप्पणी कर रहे हैं, सही कहा आपने दिग्विजय सिंह जी , मदरसों में नफरत फैलाने की तालीम दी जाती होगी, यहीं से शुरू होता होगा दंगाईयों और बलात्कारियों का सफर,

लेकिन हर मुसलमान किसी न किसी रूप से मदरसे का तालिब-ए-इल्म रह चुका है और उन्हीं मुसलमानों ने इस मिट्टी को खुन से सींचा है, उन्हीं मुसलमानों ने ताज जैसे कई गौरव भारत को दिए हैं, उन्हीं मुसलमानों में से एक ने भारत को मिसाइल दी, जानते हो इसकी तालीम उन्होंने प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से मदरसे से ही ली है,

अगर तुम्हें जानना है कि मदरसे में क्या तालीम दी जाती है तो देश के किसी भी एक मुसलमान से पुछो, वो आपको बताएगा कि मदरसों में इस्लामी संविधान के साथ साथ उस देश के कानून का पालन करने का हुक्म भी दिया जाता है जिस देश में आप रहते हो, मदरसों में अपने मुल्क से मोहब्बत करना ईमान का एक हिस्सा बताया जाता है, मदरसों में बताया जाता है कि अगर कोई गरीब भूखा सोने जा रहा है तो पूरे मोहल्ले का खाना हराम हो जाता है, मदरसों में गरीब, यतीम , लाचार , की मदद करने का हुक्म दिया जाता है, मदरसों में बताया जाता है कि किसी के माल को हड़पना गुनाह है, मदरसों में बताया जाता है कि इस्लामी संविधान में बेटियों का मर्तबा बेटों के मुकाबले में बड़ा है। मदरसों में भ्रूण हत्या को क़त्ल जैसा संगीन अपराध करार दिया जाता है, मदरसों में खून कत्ल करने वालों को बे मुद्दत जहन्नमी करार दिया जाता है।

हाँ इससे इन्कार नहीं किया जा सकता की देश में आतंकवाद ने अपना पर पसारा है, लेकिन अगर वो आतंकवाद मुसलमानों द्वारा नहीं फैलाया जा रहा तो कौन है इसका जिम्मेदार ? जनाब मेरे पास कुछ तथ्य है बस आप बता दें कि ये लोग किस मदरसे के तालिब-ए-इलम हैं, इन्होंने किस मदरसे से आतंकवाद का पाठ पढा है ?

याद कीजिये मथुरा में जवाहर बाग का वो आश्रम जहाँ खूनी सत्याग्रह के बाद खूनी सामानों का जखीरा बरामद हुआ था, आश्रम में कार्रवाई के दौरान पुलिस ने 47 पिस्टल और पांच राइफल बरामद की, करीब 150 जिंदा कारतूत बरामद किए गए हैं, 315 बोर के 45 हथियार, और दो 12 बोर के हथियार बरामद किए गए थे। घटनास्थल से ग्रेनेड और बारूद भी बरामद हुए थे, याद किजिए 2 वर्ष पहले बाबा रामपाल के आश्रम में भी इसी प्रकार अवैध हथियारों का ज़खीरा प्राप्त हुआ था, और याद कीजिए पिछले वर्ष बाबा रामदेव के फ़ूड पार्क में सुरक्षा गार्ड के कमरे से अवैध हथियारों की भी बरामदगी हुई थी। तब क्या हमने कहा था कि आतंकवाद फैलाने में एक धर्म विशेष का हाथ है ?

आप बताइए कि यह लोग किस मदरसे से ताल्लुक रखते थे ? इतना ही नहीं आप आलिम-ए-दिन पर जो ऊंगलियां उठाते हैं तो हमें बताएं कि नीचे लिखित नाम किस मदरसे के आलिम-ए-दिन हैं।

  • आसाराम बापू :- नाबालिग लड़की से रेप के मामले में जेल की सजा काट रहे आसाराम बापू के खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज हुए थे। उनके खिलाफ गैरकानूनी रूप से जमीन हथियाने, तंत्र-मंत्र के लिए बच्चों की हत्या करने, रेप करने सहित अन्य कई मामलों में पुलिस जांच कर रही है। आप बताए कि ये किस मदरसे से ताल्लुक रखता था ?
  • स्वामी नित्यानंद :- बेंगलौर-मैसूर हाइवे पर नित्यानंद के ध्यानदीपम आश्रम में सेक्स टेप का बाहर आना। इस स्कैंडल में वह दक्षिण भारतीय अभिनेत्री रणजीता के साथ आपत्तिजनक स्थिति में दिखाई दिए जिसके बाद उनके असल चेहरे सामने आए थे, आप बताएँ वो किस मदरसे से थे ?
  • नत्थू राम गोडसे :- आजाद भारत का यह पहला आतंकवादी था, जिसने एक बुजुर्ग की छाती में गोलियाँ उतार दी, गुलामी से मोहब्बत का आलम यह था कि अंग्रेजी हुकुमत पर एक कंकड़ न मारने वाले गोडसे ने राष्ट्रपिता को गोली मार दी, आप बताएँ कि यह किस मदरसे से ताल्लुक रखता था ?
  • साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर :- साध्वी पर मालेगांव में हुए धमाकों की साजिश रचने के आरोप समेत राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रचारक सुनील जोशी की हत्या का भी आरोप है , आप बताएँ कि यह किस मदरसे से ताल्लुक रखती हैं ?
  • दयानंद पांडे :- महाराष्ट्र एटीएस के दल ने जम्मू के एक मठ के पुजारी दयानंद पांडे को मालेगाँव विस्फोट मामले में गिरफ्तार किया था, आप बताएँ कि यह किस मदरसे से ताल्लुक रखता था ?
  • कर्नल पुरोहित :- समझौता एक्सप्रेस बम विस्फोट कांड के आरोपी कर्नल श्रीकांत पुरोहित पर मालेगांव ब्लास्ट में भी संदिग्ध पाया गया था, आप बताएँ कि यह किस मदरसे से ताल्लुक रखता था ?
  • असीमानंद :- असीमानंद पर अजमेर शरीफ, हैदराबाद के मक्का मस्जिद, समझौता एक्सप्रेस और मालेगांव में धमाके में शामिल होने के आरोप में सीबीआई ने उन्हें 19 नवंबर 2010 को हरिद्वार से गिरफ्तार किया था, आप बताएँ कि यह किस मदरसे से ताल्लुक रखता था ?
  • सुरेंद्र कोली :- बच्चों को चीरकर फेफड़ा, गुर्दा और दिल खाने वाला सुरेंद्र कोली और पंढेर किस मदरसे से ताल्लुक रखता था ?
  • स्वामी भीमानंद :- दिल्ली में एक भव्य मंदिर बनाकर उसके तहखाने से सैक्स रैकेट चलाने वाला भीमानंद किस मदरसे से ताल्लुक रखता था ?
  • बाबा रामपाल :- 63 साल का यह ठगी बाबा अपने आश्रम में कई महिलाओं और बच्चों को कैद करके अपने आश्रम से कई गैरकानूनी कामों को अंजाम देने वाला रामपाल आज पुलिस की गिरफ्त में है। रामपाल पर 2006 में अपने समर्थकों द्वारा रोहतक के एक गांव के लोगों पर गोली चलावने का आरोप भी है, आप बताएँ कि यह किस मदरसे से ताल्लुक रखता था ?
  • राधे मां :- धर्म की आड़ में अपनी वासना की प्यास बुझाने और अपने बेटे और शिष्यों के लिए लड़की का भोग चढाने वाली यह महिला किस मदरसे से ताल्लुक रखती हैं ?
  • चन्द्रास्वामी :- एक तांत्रिक के रूप में विख्यात चन्द्रास्वामी के आश्रम पर इंकम टैक्स की रेड पड़ी और वहां पर आम्र्स डीलर अदनान खागोशी के 11 मिलियन डॉलर के ओरिजिनल ड्रॉफ्ट मिले थे , आप बताएँ कि यह किस मदरसे से ताल्लुक रखता था ?

अजब हाल है आप देश में भाईचारे की बात करते हैं जबकि नवभारत का हिन्दू मुस्लिम भाईचारे की इससे बेहतर मिसाल क्या होगी की बम, बन्दूक, असलहे, ढोंगी, ठग, बलात्कारी इत्यादि गैर मुस्लिमों के घरों या आश्रम में पाये जाते हैं, और नफरत का अड्डा मदरसे को बताया जाता है, आतंकवाद के नाम पे मुसलमानों को जेल में ठुस दिया जाता है।

देश में तथाकथित गैर मुस्लिमों द्वारा आतंक का नंगा नाच दिखाया जाता है और मीडिया विदेश में हो रही आतंकवादी घटनाओं में से ऐसे वीडियो जिनमे से कई वीडियो फेक भी पाये गए है, उसे लाकर देश में खौफ और डर का माहोल पैदा करती है, और फिर भारतीय मुसलमानों को इसका जिम्मेदार बताकर उन्हें बदनाम किया जाता है।

  • अशरफ हुसैन 

 

Top Stories

TOPPOPULARRECENT