Saturday , May 27 2017
Home / Kashmir / RSS का प्रोपगेंडा कश्मीरी युवाओं को आतंक की ओर धकेल रहा है- सलमान निज़ामी

RSS का प्रोपगेंडा कश्मीरी युवाओं को आतंक की ओर धकेल रहा है- सलमान निज़ामी

श्रीनगर- आतंकवादी कैंपों में कश्मीर के शिक्षित युवाओं के शामिल होने की ख़बरों पर कांग्रेस ने चिंता ज़ाहिर की है।  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान निज़ामी ने कहाकि सैनिकों को कश्मीर में संयम से काम लेना चाहिए. उन्होंने कहाकि राष्ट्रीय मीडिया आरएसएस-बीजेपी के एंजेडे पर काम करते हुए उत्तेजक वीडियो दिखाता है, जिससे कश्मीरी युवा भड़क जाता है. कांग्रेस ने आरोप लगाया कि मीडिया में दिखाए जाने वाले उत्तेजक वीडियो की वजह से कश्मीरी युवा पत्थर फेंक रहे हैं और बंदूक थामकर सड़कों पर उतर रहे हैं.

सलमान निज़ामी ने कहाकि बेगुनाह लोगों की हत्या के बाद से कश्मीरी जज़्बाती हो जाते हैं, ऐसे में सुरक्षा बलों को संयम बरतना चाहिए था लेकिन सुरक्षा बलों ने ऐसा नहीं किया जिसकी वजह से कई लोगों की मौत हुई और कई लोग घायल भी हुए हैं. निज़ानी ने आरोप लगाया कि सीएम मेहबूबा मुफ्ती ने घाटी के हालात को सुधारने के लिए नाकाफ़ी कोशिशें की हैं, कांग्रेस ने बीजेपी-पीडीपी सरकार से कथित तौर पर सांप्रदायिक हिंसा फैलाने वालों के खिलाफ़ शामिल लोगों पर कार्रवाई करने की अपील की है। निजामी ने कहा कि सरकार की पिछले कुछ वर्षों से नीतियों के कारण जम्मू-कश्मीर में खून बह रहा है।

निज़ामी ने कहाकि “हर कोई जानता है कि अल्पसंख्यकों के विरुद्ध उत्तर प्रदेश और भारत के कई हिस्सों में क्या हो रहा है और इसके अलावा एक सामान्य चिंता है कि जम्मू और कश्मीर (एक मुस्लिम बहुमत राज्य) पर उसका क्या असर होगा।
मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, जनवरी 2015 से आतंकी संगठनों में कश्मीरी युवाओं की भर्ती में तेज़ी आई है, निजामी ने कहा कि बेगुनाहों की हत्या और बीजेपी-आरएसएस का एंटी कश्मीर और एंटी मुस्लिम एजेडे ने युवाओ को आतंक की तरफ़ धकेला है। उन्होंने कहाकि हमें कश्मीरियों के दिलों और दिमागों को जीतने की जरूरत है, निजामी ने केंद्र सरकार से अपील करते हुए कहाकि शिक्षित युवाओं का आतंक की तरफ़ रुख करने वाली खबरों को राष्ट्रीय चुनौती के तौर पर लेना चाहिए ।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT