Friday , June 23 2017
Home / Election 2017 / RSS के आरक्षण खत्म करने की मांग पर भड़की मायावती, कहा कभी खत्म नहीं करने देंगे

RSS के आरक्षण खत्म करने की मांग पर भड़की मायावती, कहा कभी खत्म नहीं करने देंगे

Chief Minister of the state of Uttar Pradesh, Mayawati addresses the media during a press conference in Lucknow on July 16, 2009. Mayawati justified the arrest of state Congress chief Rita Bahuguna Joshi under the Dalit Act and denied her party workers' involvement in burning Joshi's house. Rita Bahuguna Joshi, who heads the ruling Congress in India's most populous state, Uttar Pradesh, was arrested on July 15 and her house burned down after her supposed comments about state Chief Minister Mayawati Kumari. AFP PHOTO (Photo credit should read STR/AFP/Getty Images)

शम्स तबरेज़, लखनऊ ब्यूरो।
लखनऊ: जयपुर में चल रहे जयपुर लेटरेचर फैसटिवल में संघ प्रचारक मनमोहन वैद्य और सह सरकार्यवाहक दत्तात्रेय होसबोले ने कहा कि अगर आरक्षण को लंबे समय तक लागू रखा गया तो इससे अलगाववाद पैदा होगा, अब समय आ गया है कि सभी को बेहतर शिक्षा दी जाए और समान अधिकार की बाते हों। इस बात पर भड़की मायावती ने प्रेस ​रिलीज़ जारी करके संघ द्वारा दलितों और पिछड़ों को मिलने वाले आरक्षण को खत्म करने की बात का कड़ा विरोध किया है। मायावती संघ के इस बयान को निन्दनीय बताया है और कहा कि बसपा ऐसे किसी भी प्रयास को सफल नहीं होने देगी।
आरएसएस की तरफ से ये बयान ऐसे समय में आया है जब उत्तर प्रदेश में चुनाव होने वाले है। ठीक इसी प्रकार का बयान बिहार चुनाव के दौरान संघ प्रमुख मोहन भागवत ने आरक्षण पर समीक्षा करने की बात कही थी जिसके बाद बीजेपी को बिहार में शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा था। आरएसएस फिर वही काम कर रहा जो बिहार में चुनाव के दौरान किया ​था। इस बार पांच राज्यों का चुनाव है और ऐसे में आरएसएस का ये बयान भारतीय जनता पार्टी की राह और भी मुश्किल कर सकती है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT