Friday , July 28 2017
Home / Social Media / #सहारनपुर: हाथ कट गए, इंसान जल गए और घर ढह गए पर सब इतने खामोश है जैसे कुछ हुआ ही नहीं…

#सहारनपुर: हाथ कट गए, इंसान जल गए और घर ढह गए पर सब इतने खामोश है जैसे कुछ हुआ ही नहीं…

सहारनपुर के शब्बीरपुर में महाराणा प्रताप जयंती के मौके पर दो समुदायों में शुरू हुआ बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस जातीय हिंसा के चलते शहर में आगजनी और पथराव किया जा रहा है।

ठाकुर समुदाय द्वारा हिंसा का शिकार हुए दलित समुदाय के लोगों का आरोप है कि इस मामले में प्रशासन ने उचित कार्रवाई नहीं की है। इस हिंसा का शिकार हुए पीड़ित दलितों को मुआवजा भीं नहीं दिया गया है।

बता दें कि महाराणा प्रताप की जयंती पर जलूस निकाकने के दौरान शुरू हुई इस हिंसा में ठाकुर समुदाय के लोगों ने दलितों को प्रताड़ित किया और उनके घरों को आग लगा दी। जिसमें एक शख्स सुमित कुमार की मौत भी हो गई।

इंसाफ मांगने के लिए गांधी पार्क में इक्क्ठे हुए दलित लोगों को पुलिस ने डंडे और लाठियां मार कर वहां से खदेड़ दिया। उनके वाहन भी पुलिस ने जब्त कर लिए। जिससे गुस्साई भीड़ शहर में भीड़ हिंसा पर उतारू हो गई। देखते ही देखते दर्जनों वाहनों में आग लगा दी गई।

सइस बीच अब हारनपुर का मुद्दा लोग सोशल मीडिया पर भी उठा रहे हैं।

#सहारनपुर में लोगों की कुछ इस तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही है:

 

TOPPOPULARRECENT