Friday , August 18 2017
Home / Delhi News / 12 साल बाद सरोजनी नगर ब्लास्ट केस से दो मुस्लिम युवक बाइज़्ज़त रिहा

12 साल बाद सरोजनी नगर ब्लास्ट केस से दो मुस्लिम युवक बाइज़्ज़त रिहा

नई दिल्ली  आज पटियाला हाउस कोर्ट ने २००५ मे सरोजनी नगर ब्लास्ट मे अहम् फैसला सुनाते हुवे दो लोगों को बाइज्जत बरी कर दिया वहीँ एक आरोपी को दोषी करार दिया है

धमाकों में  तारिक अहमद डार, मोहम्मद हुसैन फाजिल और मोहम्मद रफीक शाह पर मिलकर साजिश रचने का आरोप था। पुलिस ने तारिक अहमद ड़ार को मुख्य आरोपी मास्टरमाइंड बताया था , कोर्ट के इस फैसले के बाद पिछले 10 सालों से जेल में बंद अहमद डार भी रिहा हो जाएगा। क्योंकि वो पहले ही जेल में 10 साल की सजा  काट चुका है।

साल 2005 में दिल्ली के कई जगहों पर हुए इन सिलसिलेवार धमाकों में 62 लोगों की जान चली गई और करीब 100 लोग घायल हुए थे।

 

TOPPOPULARRECENT