Tuesday , September 19 2017
Home / India / 30 अप्रैल के बाद ब्लॉक हो सकता है आपका बचत खाता, अगर नहीं किया…

30 अप्रैल के बाद ब्लॉक हो सकता है आपका बचत खाता, अगर नहीं किया…

इनकम टैक्स के नए आदेश के तहत देश में बचत खाताधारकों के खाते ब्लॉक हो सकते हैं। यह आदेश एफएटीसीए के एक्ट के तहत आया है।

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का कहना है कि जिन खाताधारकों के खाते 1 जुलाई 2014 से 31 अगस्त 2015 के बीच खुले हैं उन्हें अपने खातों को जल्द से जल्द सेल्फ सर्टिफाइड करना होगा।

खाताधारकों को यह कार्यवाही 30 अप्रैल तक पूरी करनी होगी। अगर ऐसा नहीं किया गया तो उनके खातों को ब्लॉक कर दिया जायेगा। जिसके बाद खाताधारक कोई फाइनेंसियल ट्रांसेक्शन नहीं कर पाएंगे।

जानकारी के लिए 10 अहम बातें :

– एफएटीसीए (FATCA) के तहत भारत और अमेरिका के बीच ऐसी संधि है जिसके बाद ऐसे खाता धारकों के वित्तीय लेन-देन की जानकारी एक दूसरे से साझा की जाती है।

– भारत और अमेरिका ने इस संबंध में 31 अगस्त 2015 को एक संधि पर हस्ताक्षर किए थे। इसे ‘विदेशी खाते कर क्रियान्वयन’ कानून का नाम दिया गया।

– आयकर विभाग ने कहा है कि यदि अकाउंट को ब्लॉक कर दिया गया तब खाता धारक निर्धारित प्रक्रिया पूरी करने के बाद ही अपने खाते से काम कर सकेगा।

– इससे पहले बैंकों को यह प्रक्रिया 31 अगस्त 2016 तक पूरे करने के निर्देश दिए गए थे। बाद में यह तारीख 30 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दी गई थी। अब भी लोगों को उम्मीद थी कि एक बार फिर तारीख को बढ़ा दिया जाएगा। लेकिन अब आयकर विभाग ने साफ कर दिया है कि इस बार ऐसा नहीं होगा। ऐसे खाताधारकों को 30 अप्रैल तक यह काम पूरा करना ही होगा।

– आयकर विभाग के सख्त रुख को देखते हुए म्यूचुअल फंड और अन्य वित्तीय संस्थानों ने अपने ग्राहकों को साफ कर दिया है कि वह नए नियमों के तहत अपने अपने स्व प्रमाणित करने वाले काम पूरा कर लें।

– अब आयकर विभाग ने सभी वित्तीय संस्थानों को यह निर्देश दे दिया है कि वह सभी इस काम में तत्परता दिखाएं। ताकि जरूरी काम पूरा हो सके।

– जानकारी के लिए बता दें कि यह संधि और नियम इसीलिए बनाया गया था ताकि दूसरे देशों में अर्जित संपत्ति से की जाने वाली आय पर जरूरी कर लगाया जा सके।

TOPPOPULARRECENT