Monday , October 23 2017
Home / Bihar News / SC/ST और अक्लियती तालिबे इल्म को तोहफा, 10वीं में सेकेंड डिवीजन लाने पर भी दस हजार

SC/ST और अक्लियती तालिबे इल्म को तोहफा, 10वीं में सेकेंड डिवीजन लाने पर भी दस हजार

मैट्रिक इम्तिहान में सेकंड डिवीजन में कामयाब होने पर भी दर्ज़ फेहरिस्त जाति और क़बायली और अक्लियत तल्बा-तालिबात को 10 हजार रुपए दिए जाएंगे। वजीरे आला जीतन राम मांझी ने तालीम महकमा की तजवीज के दौरान जुमेरात को यह ऐलान की। “मेधावृत्त

मैट्रिक इम्तिहान में सेकंड डिवीजन में कामयाब होने पर भी दर्ज़ फेहरिस्त जाति और क़बायली और अक्लियत तल्बा-तालिबात को 10 हजार रुपए दिए जाएंगे। वजीरे आला जीतन राम मांझी ने तालीम महकमा की तजवीज के दौरान जुमेरात को यह ऐलान की। “मेधावृत्ति” मंसूबा के तहत अभी यह फाइदा महज़ फ़र्स्ट डिवीजन में कामयाब होने पर तमाम ज़ात के तालिबे इल्म और दर्ज़ फेहरिस्त ज़ात, क़बायली ज़ात और अक्लियत तबके के तालिबे इल्म को भी मिलता है।

इंटर में फ़र्स्ट डिवीजन तो 25 हजार

इंटर में फ़र्स्ट डिवीजन से पास करने वाली तमाम तालिबे इल्म को 25 हजार रुपए मिलेंगे। लेकिन, एससी/एसटी और मुस्लिम तालिबे इल्म को सेकेंड डिवीजन से पास होने पर भी 25 हजार दिए जाएंगे। वजीरे आला ने इन तबकों के तालिबे इल्म को पोशाक, साइकिल, वजीफा देने के लिए 75 फीसद हाजिरी की लाज़्मियत खत्म करने की हिदायत भी दिया। मांझी ने वैसी खातून जो असातिज़ा के ओहदे पर मुकर्रिर हैं और किसी दीगर यूनिट में असातिज़ा के लिए दरख्वास्त करती हैं, तो उन्हें एक्सपिरिएन्स का फाइदा देने के लिए दस्तूरुल अमल में तरमीम करने को कहा। कहा कि जिला स्कूलों का एजाज वापस लेने की सिम्त में काम करें।

उर्दू असातिज़ा की तकर्रुरी जल्द

वजीरे आला ने उर्दू असातिज़ा की तकर्रुरी जल्द शुरू करने की हिदायत दिया। टीईटी पास 15 हजार उर्दू असातिज़ा की तकर्रुरी तौविल है। तालीम अदारों को ग्रांट की रकम बिला ताखीर देने की भी बात कही।

TOPPOPULARRECENT