Tuesday , August 22 2017
Home / India / सीता का कोई ऐतिहासिक प्रमाण नहीं: केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा

सीता का कोई ऐतिहासिक प्रमाण नहीं: केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा

भाजपा सरकार में केंद्रीय मंत्री ने आज सीता को आस्था का विषय बता दिया। केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ना यह भी कहा कि सीता आस्‍था का विषय है उनके अस्तित्‍व के सबूत नहीं मिलते।

सीता की जन्मस्थली से जुड़े एक सवाल के लिखित जवाब को लेकर संस्कृति मंत्री महेश शर्मा पर राज्यसभा में आज विपक्षी सदस्यों ने निशाना साधा।

आपको बता दूँ कि केंद्रीय मंत्री ने अपने जवाब में कहा गया था कि ‘सीता की जन्मस्थली आस्था का विषय है जो प्रत्यक्ष प्रमाण पर निर्भर नहीं करता। ख़बर रहे कि अपने लिखित उत्तर में उन्होंने कहा था, ‘‘सीता की जन्मस्थली आस्था का विषय है जो प्रत्यक्ष प्रमाण पर निर्भर नहीं करता। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने अब तक सीतामढ़ी जिला में कोई उत्खनन नहीं किया है।

विपक्षी सदस्यों ने महेश शर्मा पर उस समय निशाना साधा जब वह प्रश्नकाल के दौरान बिहार में सीता की जन्मस्थली से जुड़े पूरक सवालों का जवाब दे रहे थे।

कांग्रेस सदस्य दिग्विजय सिंह ने कहा कि वह इस जवाब की निंदा करते हैं जिसमें कहा गया है कि जन्मस्थली आस्था का विषय है। सिंह ने कहा कि भाजपा ने रामसेतु के संबंध में तत्कालीन कांग्रेस सरकार के रूख को लेकर भी आपत्ति जतायी थी। उन्होंने कहा कि मंत्री को इस जवाब के लिए माफी मांगनी चाहिए।

आपको बता दूँ की भाजपा सदस्य प्रभात झा ने पूरक सवाल के जरिए सीतामढ़ी क्षेत्र के विकास का ब्यौरा मांगा था और कहा कि वहां कोई विवाद भी नहीं है। शर्मा ने कहा कि सरकार ने रामायण परिपथ (सर्किट) की योजना बनायी है जिसमें सीतामढी को शामिल किया गया है।

 

TOPPOPULARRECENT