Saturday , August 19 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना विधानसभा में मुस्लिम आरक्षण बिल पास

तेलंगाना विधानसभा में मुस्लिम आरक्षण बिल पास

picture: HT

तेलंगाना विधान सभा द्वारा पिछड़े तबके, दलित और आदिवासियों का 2017 का आरक्षण बिल रविवार को पास कर दिया गया। बिल में पिछड़े मुसलमानों और आदिवासियों के लिए 12 प्रतिशत और 10 प्रतिशत आरक्षण रखा गया है।

आज के विधान सभा के विशेस सत्र के आरम्भ में मुख्यमंत्री के चन्द्रशेखर राव ने समाजिक और आर्थिक रूप से पिछड़े मुसलमानों और पिछड़े समूहों के लिए आरक्षण कोटा बढ़ाने वाला बिल बढ़ाया।

पिछड़े हुए मुसलमानों के लिए शिक्षा और नौकरी में 4 प्रतिशत से आरक्षण बढ़ा कर 12 प्रतिशत कर दिया है। वहीँ आदिवासियों के लिए 6 प्रतिशत से 10 प्रतिशत कर दिया गया है।

वहीं बिल को अभी कॉउंसिल में भी पास होने के लिए जाना है उसके बाद केंद्र में राष्ट्रपति की सहमति के लिए जाएगा। राव ने इसको ऐतिहासिक दिन बताते हुए कहा कि तेलंगाना राष्ट्र समिति का ये चुनावी वादा था की पिछड़े समुदाय दलित और आदिवासियों के लिए उनकी जनसंख्या को देखते हुए आरक्षण में बढ़ोतरी की जायेगी।

उन्होंने कहा की दलित और आदिवासी6 का सिर्फ 6 प्रतिशत कोटा था जबकि 2011 के सेंसस के अनुसार उनकी जनसंख्या 9.8 प्रतिशत है। वहीं भाजपा नेता जी कृष्णा रेड्डी ने बिल को असंवैधानिक बताया और कहा की ये न्यायिक निरीक्षण के लिए जाना ही नहीं चाहिए।

उन्होंने मुस्लिम कोटा बिल और आदिवासी दलितों के कोटा बिल को एक ही बिल में रखने के लिए भी टीआरएस सरकार की गलती बताई। शहर की सुरक्षा की देखते हुए रविवार की सुबह की भाजपा नेता और कार्यकर्ताओं को पुलिस द्वारा गिरफ़्तार कर लिया गया।

विधान सभा के रास्ते पर सुरक्षा बढ़ा दी गयी है। विरोधियों ने हैदराबाद में तेलंगाना सरकार की दो बसों के शीशे तोड़े। शहर के कुछ इलाकों में उन्होंने बस के पहिये को भी नुकसान पहुंचाया।

TOPPOPULARRECENT