Wednesday , September 20 2017
Home / Bihar News / एक और हादसा, अब चलती ट्रेन में दौड़ा करंट, कई यात्री झुलसे

एक और हादसा, अब चलती ट्रेन में दौड़ा करंट, कई यात्री झुलसे

रेलमंत्रालय में किए गए फेरबदल के बाद भी रेल हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे। दिल्ली, उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र के बाद अब बिहार में रेल हादसा देखने को मिला। जहां एक चलती ट्रेन में बिजली का करंट दौड़ने से तीन लोग झुलस गए।

यह हादसा मौर्या एक्सप्रेस ट्रेन में बरौनी-समस्तीपुर रेलखंड अंतर्गत साठाजगत रेलवे स्टेशन के आउटर सिग्नल के पास हुआ। ख़बरों के मुताबिक बछवाड़ा रेलवे स्टेशन से ट्रेन के खुलने के बाद सुबह करीब छह बजे एक कोच में सीट से धुंआ निकलने लगा। जिसके बाद कुछ यात्रियों को करंट का झटका महसूस हुआ।

करंट का झटका महसूस होने से यात्रियों में भगदड़ मच गई। भगदड़ को देखते हुए ट्रेन को रुकवाया लिया गया। लेकिन तब तक तीन यात्री करंट की चपेट में आने से झुलस चुके थे। जिसके बाद उन्हें बेगुसराय रेलवे अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालांकि, अभी तक यह पता नहीं लग पाया है कि ट्रेन के कोच में करंट कैसे फैला।

ग़ौरतलब है कि देश में हाल में हुए कई रेल हादसों को लेकर आलोचनाओं का सामना कर रही मोदी सरकार ने सुरेश प्रभु को हटाकर पीयूष गोयल को रेल मंत्रालय की ज़िम्मेदारी सौंपी थी। लेकिन पीयूष गोयल के रेलमंत्री बनते ही उत्तर प्रदेश, नयी दिल्ली और महाराष्ट्र में नौ घंटे के भीतर तीन रेलगाड़ियां पटरी से उतर गईं थीं।

हाल ही में हुए कुछ रेल हादसे

इससे पहले भदोही जिले के ज्ञानपुर स्टेशन के पास वाराणसी जा रही शिवगंगा एक्सप्रेस का इंजन कपलिंग टूट जाने की वजह से डिब्बों से अलग होकर करीब एक किलोमीटर आगे निकल गया था। गति धीमी होने की वजह से एक बड़ा हादसा होने से टल गया था।

20 अगस्त को कलिंग उत्कल पुरी हरिद्वार एक्सप्रेस के 14 डिब्बे उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में पटरी से उतर गए थे, जिसमें कम-से-कम 23 लोगों की मौत हो गयी थी और बड़ी संख्या में लोग घायल हुए थे।

इसके तीन दिन बाद दिल्ली आ रही कैफियत एक्सप्रेस के नौ डिब्बे उत्तर प्रदेश के औरैया में पटरी से उतर गए, जिसमें कम-से-कम 100 यात्री घायल हो गए।

TOPPOPULARRECENT