Thursday , May 25 2017
Home / Uttar Pradesh / बाल-बाल बची स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस, चालक की सूझबूझ से टला बड़ा हादसा

बाल-बाल बची स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस, चालक की सूझबूझ से टला बड़ा हादसा

कानपुर: नई दिल्ली-हावड़ा रेल रूट पर रविवार सुबह बाइक सवार युवक की जल्दबाजी के कारण स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त होते बची। सादीपुर ओवरब्रिज के पास सुबह करीब 11.45 बजे ट्रैक पार कर रहा युवक ट्रेन देख बाइक छोड़ भागा। 110 किमी. प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ रही ट्रेन के इंजन में बाइक फंसने से चालक के हाथ-पांव फूल गए, पर उसने सूझबूझ से ट्रेन की रफ्तार धीरे-धीरे कम करके एक बड़ा हादसा टाल दिया। इस हादसे से अप लाइन करीब आधा घंटा बाधित रही। इस दौरान कई ट्रेनें जहां की तहां रोक दी गईं। सादीपुर ओवरब्रिज के पास सुबह करीब 11.45 बजे दरभंगा से नई दिल्ली जा रही स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एक्सप्रेस धड़धड़ाते गुजर रही थी। इसी दौरान सादीपुर ओवरब्रिज के पास एक बाइक सवार ट्रैक पार कर रहा था। ट्रेन आती देख वह बाइक ट्रैक पर ही छोड़कर भाग खड़ा हुआ। ट्रेन के इंजन में फंसी बाइक करीब छह सौ मीटर तक घिसटती चली गई। चालक ने सूझबूझ दिखाई और धीरे-धीरे रफ्तार कम करके ट्रेन रोकी। सूचना पर रेलवे स्टेशन फतेहपुर के आरपीएफ प्रभारी रामबहादुर, उपनिरीक्षक दिनेश कुमार और इंजीनियरिंग विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे। रेलवे की टेक्निकल टीम ने मशक्कत कर इंजन में फंसी बाइक को बाहर निकाला। हादसा टलने से अधिकारियों ने राहत की सांस ली। इस दौरान अप लाइन की चौरीचौरा, कालका, जोधपुर हावड़ा ट्रेनें जहां की तहां रोकी गईं। यातायात प्रभारी नवीन कुमार ने बताया कि इंजन की जांच करने के बाद ट्रेन को 12.15 बजे रवाना किया गया। आरपीएफ प्रभारी रामबहादुर ने बताया कि क्षतिग्रस्त बाइक को सीज कर अज्ञात चालक के खिलाफ रेलवे एक्ट के तहत यात्रियों की जानमाल का खतरा पैदा करने का मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि क्षतिग्रस्त बाइक किसी मोहम्मद खान के नाम दर्ज है। पूरा पता नहीं चल सका है। रामबहादुर के मुताबिक चालक ने सूझबूझ न दिखाई होती तो ट्रेन पटरी से उतरकर किसी बड़े हादसे का कारण भी बन सकती थी।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT