Tuesday , June 27 2017
Home / World / हिजाब पहनने पर दो छात्राओं को अमेरिकी स्कूल ने घर वापस भेजा

हिजाब पहनने पर दो छात्राओं को अमेरिकी स्कूल ने घर वापस भेजा

वाशिंगटन: दो मुस्लिम छात्राओं को हिजाब पहनने पर अमेरिका के एक स्कूल ने कथित तौर पर घर वापस भेज दिया, क्योंकि वे यह साबित करने के लिए अपने माता-पिता से ‘नोट’ नहीं ले कर आये थे, कि उन्होंने धार्मिक कारणों की वजह से हिजाब पहना है.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

हजाबाह और फातमाता मानसरे, दोनों कज़न सिस्टर हैं, जो फ्रीडम हाई स्कूल, वर्जीनिया की छात्रा हैं, इनका आरोप है कि स्कूल के प्रशासकों ने उन्हें हिजाब करने के फैसले पर परेशान किया, जबकि बाद में प्रिंस विलियम स्कूल डिवीजन के नेताओं ने उनसे माफ़ी भी मांगी।

सियासत न्यूज़ के अनुसार बाह और मानसरे से गुरुवार को स्कूल प्रशासक ने संपर्क किया था और कहा था कि उन्हें माता-पिता से एक नोट लेने की आवश्यकता होगी, कि वे धार्मिक कारणों की वजह से हिजाब कर रहे हैं। जब उन्होंने ऐसा नहीं किया, तो उन्हें प्रिंसिपल के कार्यालय में भेज दिया गया और आखिरकार उन्हें स्कूल से एक दिन के लिए निकाल दिया।

बाह ने कहा, कि “आम तौर पर मैं स्कूल में हिजाब नहीं पहनती, लेकिन इस बार मैंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि इस साल स्कूल के दौरान रमजान चल रहा है और मैं रोज़ा रखती हूँ, इसलिए मैंने हिजाब किया।” उसने कहा कि लेकिन मुझे एक नोट की आवश्यकता क्यों है, जबकि यह मेरा धर्म है?

जैसे ही घटना के बारे में स्कूल डिवीजन के नेताओं को पता चला, प्रवक्ता फिल कविट ने कहा, कि “उन्होंने तुरंत यह तय किया कि वह पीडब्ल्यूसीएस (राजकुमार विलियम काउंटी पब्लिक स्कूल) के प्रति विरोध जताये।”

उन्होंने कहा कि स्कूल के अधिकारियों ने पहले ही दोनों लड़कियों और उनके परिवारों से माफी मांग ली है, और डिवीजन ने ऑनलाइन माफी मांगी है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT