Sunday , May 28 2017
Home / Khaas Khabar / उत्तर प्रदेश : भाजपा सरकार में कौन बनेगा अल्पसंख्यक कल्याण और हज मंत्री

उत्तर प्रदेश : भाजपा सरकार में कौन बनेगा अल्पसंख्यक कल्याण और हज मंत्री

भारतीय जनता पार्टी के लिए 11 मार्च का दिन ऐतिहासिक था जब उसने यूपी में अपने सहयोगियों के साथ मिलकर 325 सीटों पर जीतीं और सपा समेत कई दलों का सफाया कर दिया। फिलहाल पार्टी के भीतर सूबे के सीएम पद को लेकर मंथन चल रहा है।

हालांकि पार्टी ने प्रदेश के लिए अभी तक मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा नहीं की है, लेकिन बड़ा सवाल यह है कि अल्पसंख्यक कल्याण और हज के मंत्री कौन होंगे। अभी तक आज़म खान के पास अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय के हज का प्रभार था लेकिन अब सरकार बदलने के बाद यह सवाल तमाम लोगों के ज़हन में कौंध रहा है।

दिलचस्प बात यह है कि भारतीय जनता पार्टी ने राज्य में एक भी मुस्लिम उम्मीदवार को टिकट नहीं दिया। भाजपा के 325 विधायक अब विधानसभा में हैं, फिर भी इस विभाग के लिए कोई नहीं है।

इस साल के चुनाव में 25 मुस्लिम विधायक ही जीते हैं जिनमें से 17 समाजवादी पार्टी, 6 बसपा और कांग्रेस के 2 सदस्य हैं। भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने कहा है कि मुसलमानों को पार्टी में उच्च प्रतिनिधित्व मिलेगा लेकिन कैसे मिलेगा इसका कहीं उल्लेख नहीं किया है।

पिछले कुछ वर्षों में मुख्तार अब्बास नकवी और नजमा हेपतुल्ला भाजपा के अल्पसंख्यक प्रतिनिधित्व का चेहरा रहे हैं लेकिन दोनों ही पहले से ही महत्वपूर्ण पदों पर हैं। इस हफ्ते की शुरुआत में अफवाहें थीं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद ही कहा था कि पार्टी किसी को विधान परिषद से लाने का विचार कर सकती है। भाजपा सरकार समता पर काम करेगी। नए भारत के लिए एक दृष्टि का एहसास करने के लिए पार्टी काम करेगी। पार्टी सबका साथ, सबका विकास के दर्शन से प्रेरित है।

बहरहाल, अगर भाजपा किसी को बाहर से लाने के बजाय मौजूदा सदस्यों में से किसी का चुनाव करती है तो ऐसे में उसके पास अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय और हज विभाग का प्रभार हिंदू सदस्य कोए देने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं बचेगा।

 

Top Stories

TOPPOPULARRECENT