Sunday , September 24 2017
Home / India / उपराष्ट्रपति पद की जिम्मेदारी के साथ इंसाफ करने की कोशिश करूंगा: वेंकैया

उपराष्ट्रपति पद की जिम्मेदारी के साथ इंसाफ करने की कोशिश करूंगा: वेंकैया

तरोमला: नवनिर्वाचित उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि आंध्र प्रदेश के जिले निलोर से संबंध रखने वाले एक मामूली किसान के पुत्र का देश के इस महान पद तक पहुंचना मामूली बात नहीं है। उन्होंने कहा कि यह भारतीय लोकतंत्र की ख़ूबसूरती और जनता प्रेम ही है कि एक आम किसान का पुत्र देश के इस महत्वपूर्ण पद पर बैठने जा रहा है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उन्होंने कहा कि वह उपराष्ट्रपति पद की जिम्मेदारी के साथ इंसाफ करने की कोशिश करेंगे और नए प्रोटोकॉल के अनुसार ही जनता तक पहुँचने की कोशिश करेंगे। क्योंकि उनकी राजनीतिक जीवन में हमेशा उन्होंने जनता से मुलाकात की है और जनता के बीच रहे हैं। यह उनके लिए ऑक्सीजन की तरह है।

नायडू ने आज परिवार के सदस्यों के साथ आंध्र प्रदेश के तिरुपति की प्रसिद्ध तरोमला मंदिर में पूजा की। इस अवसर पर मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि महत्वपूर्ण पदों से इस्तीफा देने पर वह अब स्वतंत्र हो चुके हैं और वह इस नए पद की गरिमा को बनाए रखना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि उनके जीवन में नया अध्याय आज से शुरू होने जा रहा है और जब इस पद के लिए उनका नाम पेश किया गया तो वे काफी असहज हो गए थे। वह अब संविधान के अनुसार नए पद की जिम्मेदारी संभालेंगे जिसके लिए वह खुशी महसूस कर रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT