Wednesday , September 20 2017
Home / Uttar Pradesh / योगी सरकार ने गौतम अडानी की कंपनी समेत 6 को भेजा नोटिस

योगी सरकार ने गौतम अडानी की कंपनी समेत 6 को भेजा नोटिस

उत्तरप्रदेश सरकार ने सोमवार को अडानी ग्रुप की कंपनी अडानी ग्रीन एनर्जी समेत 6 कंपनियों को नोटिस भेजा है । राज्य में सोलर पावर प्लांट लगाने में देरी करने के चलते 6 कंपनियों को नोटिस जारी किया।

इन कंपनियों ने दो साल पहले सरकार से एग्रीमेंट किया था और अब दो साल बाद भी सोलर पावर प्लांट स्थापित नहीं किए, जिसके बाद सरकार ने नोटिस भेजा है ।

यूपी पावर कार्पोरेशन लिमिटेड (UPPCL) ने यह नोटिस जिन छह कंपनियों को भेजा उनमें अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड, पिनाकेल एयर प्राइवेट लिमिटेड, अवध रबड़ प्रोप, मद्रास इलास्टोमर लिमिटेड, सुधाकर इन्फ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड और शास्त्राधारा एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड शामिल हैं। नोटिस के मुताबिक इन कंपनियों का न्यू एनर्जी डेवलपमेंट अथॉरिटी (Neda) से किया गया एग्रीमेंट खत्म हो सकता है।

UPPCL ने अपने एक बयान में कहा कि सोलर पावर पॉलिसी 2013 के तहत 15 कंपनियों ने साल 2015 में उत्तर प्रदेश सरकार के साथ समझौता किया था। इनमें से नौ कंपनियों ने कुल 135 मेगावॉट क्षमता वाले सोलर पावर प्लांट स्थापित कर दिए थे, जबकि छह कंपनियों को 80-80 मेगावॉट के पावर प्लांट लगाने थे जोकि उन्होंने नहीं लगाए। UPPC के मुताबिक, समय के साथ सोलर पैनल के दाम भी कम हुए हैं।

समझौते के मुताबिक, सोलर पावर 7.02 से 8.60 रुपए प्रति युनिट के हिसाब से दी जानी थी। कार्पोरेशन ने केंद्र के उस सर्वे का भी हवाला दिया जिसमें कहा गया था कि सोलर पैनक के दाम कम होने से सोलर पावर के दाम में भी 2.44 रुपए प्रति यूनिट की गिरावट हुई है। UPPCL के प्रवक्ता ने कहा कि ऐसी परिस्थितियों में कंपनियों को पुराने समझौते के हिसाब से पावर प्लांट स्थापित करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

TOPPOPULARRECENT