Wednesday , April 25 2018

Editorial

‘नफरत का जवाब नफरत से देना बेवकूफी है’

इस बात से हम सब अच्छी तरह वाकिफ हैं कि हमारे देश में इन दिनों एक ऐसा समूह सकिर्य है जो अपने आप को बहुत गर्व से हिन्दू कहता है। बहुत जोश से खुद को भारतीय साबित करने की कोशिश करता है और बहुत गहरे रंग का भगवा लिबास पहनकर …

Read More »

गुज़रे हुए वक़्त से सबक लें और आगे आएं

अलीगढ़: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में छात्रों के सवालों से कांग्रेस के सीनियर नेता सलमान खुर्शीद घबरा गये। छात्र ने मेरठ मलियाना वगैरह में मुसलमानों के नरसंहार पर सवाल खड़े किये। पूर्व केन्द्रीय मंत्री सवालों के जवाब से दामन बचाते रहे आखिर में कह दिया कि कांग्रेस नेता होने के संबंध …

Read More »

अल्पसंख्यकों के खिलाफ हिंसा की मंजूरी संस्थागत

कठुआ बलात्कार का मामला, जैसा आरोपपत्र में कहा गया था की यह एक विशेष क्षेत्र से किसी विशेष समुदाय को आतंकित करने और बेदखल करने के उद्देश्य से बच्चे के पूर्व-नियोजित तरीके से बलात्कार किया गया था। कठुआ बलात्कार पीड़िता को कब्रिस्तान में अपने शरीर को दफन करने की इजाजत …

Read More »

‘इस्लाम तलवार की जोर से नहीं बल्कि अखलाक़ से फैला है’

रोपेंदेही। नेपाल में मुसलमानों की संख्या बहुत मुख्तसर है, आंकड़े के मुताबिक मुसलमानों की संख्या लगभग चार फीसद पहुंचता है, इस्लाम की प्रचार प्रसार का जरिया मदरसे और मरकज़ हैं, दावत के लिए जरूरत के मद्देनजर छोटे बड़े जलसे आयोजित होते रहते हैं। जिससे दिलों को इस्लामी किरणों से रौशन …

Read More »

ऐसा समाज हो जिसमें बलात्कार करने की कोई हिम्मत न कर सके

आज कल हर ओर से कम उम्र बच्चियों के साथ यौन उत्पीड़न की घटनाओं की खबरें आ रही हैं। कठुआ में तो दरिंदगी की सारी हदें पार कर दी गई। अब इंदोर से खबर आई है कि एक शख्स ने 6 महीने की एक बच्ची को अपना शिकार बनाया। अखबारों …

Read More »

नजरिया: 12 साल से कम उम्र की बच्चियों के बलात्कार पर फांसी

जब सरकार ने एक ऑर्डिनेंस के जरिये किशोरियों की बलात्कार करने वालों को फांसी दिए जाने का कानून बनाया तो इसका राष्ट्रीय स्तर पर स्वागत हुआ, ख़ुशी की बात यह है कि इस ऑर्डिनेंस में ब्लातकारियों को जल्द से जल्द सज़ा देने के लिए जांच और मुकदमे की सुनवाई के …

Read More »

जेल से डॉक्टर काफिल ने लिखा ख़त, ‘क्या सच में मैं दोषी हूं

11 अगस्त 2017 को गोरखपुर के BRD अस्पताल में Oxygen की कमी की वजह से कई बच्चों की मौत हो गई थी. इस हादसे की जांच के लिए बनाई गई कमेटी ने नौ लोगों को ज़िम्मेदार माना था, जिसमें doctor कफील खान भी शामिल थे. ये वो कफील खान हैं …

Read More »

महाभियोग पर रवीश कुमार की त्वरित टिप्पणी…

राज्यसभा के 65 मौजूदा सांसदों ने मौजूदा चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के ख़िलाफ़ महाभियोग के प्रस्ताव पर दस्तख़त कर दिए हैं. इसके अलावा 6 सांसदों के भी दस्तख़त हैं मगर वो रिटायर हो चुके हैं. यह प्रस्ताव राज्यसभा के चेयरमैन यानी भारत के उपराष्ट्रपति के सामने पेश कर दिया गया …

Read More »

एनआईए तटस्थता के लिए अविचलित स्थिति

2007 में मक्का मस्जिद विस्फोट मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी के अभियुक्त के खिलाफ मुकदमा चलाया जा रहा है। अभियुक्तों को साक्ष्य की इच्छा के लिए छोड़ दिया गया है! आतंकवादी हमलों के अन्य एनआईए मामले, जिसमें आरोपी राईट विंग हिंदू संगठनों का था, 2007 समझौता एक्सप्रेस के विस्फोट और …

Read More »

लव जिहाद की राजनीति करने वाले बीजेपी नेता अब हिन्दू-मुस्लिम शादी में चाप रहे हैं रसगुल्ले- रविश कुमार

पिछले साल मई में रिपब्लिक चैनल पर हैदराबाद से एक स्टिंग चला था। आप यू ट्यूब पर इसकी डिबेट निकाल कर देखिए, सर फट जाएगा। स्टिंग में तीन लड़कों को ISI के लिए काम करने वाला बताया गया था । जब पुलिस ने देशद्रोह का केस दर्ज किया था तब …

Read More »

मक्का मस्जिद विस्फोट मामले में अधिग्रहण ने न्याय प्रणाली की एक खेदजनक तस्वीर पेंट की!

मक्का मस्जिद विस्फोट मामले में पांच अभियुक्तों को बरी किए जाने से हमें एक असभ्य, लेकिन परिचित, समस्या को वापस ले आती है जब अभियोजन विफल हो जाता है: नौ लोगों को किसने मारा और कई अन्य घायल कैसे हो गए? राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने अपने क्रेडिट के लिए एक …

Read More »

VIDEO : 1967 से अब तक 8 लाख से अधिक फिलीस्तीनियों को इज़राइल ने जेलों में बंद किया है

गाजा : चूंकि 1967 में इजरायल ने पश्चिमी तट और गाजा में सैन्य कब्जे शुरू किए थे, और इस दौरान इसने 800,000 से अधिक फिलीस्तीनियों को अब तक जेलों में कैद किया है। फिलिस्तीनियों ने Prisoners’ Day को कैदियों के दिन के रूप में चिह्नित किया है – इजरायल की …

Read More »

जामिया मिल्लिया इस्लामिया ने स्वतंत्रता आंदोलन में अहम भूमिका निभाया

नई दिल्ली: जामिया मिल्लिया इस्लामिया के चांसलर और मणिपुर के गवर्नर डॉक्टर नजमा हेपतुल्ला ने कहा कि जिस दौर में जामिया मुश्किल हालात से दो चार था उस समय महात्मा गाँधी ने कहा था कि जामिया को बचाने के लिए अगर मुझे का उठाकर गदाई भी करनी पड़ी तो उससे …

Read More »

विश्लेषकों से जानें, सीरिया में पश्चिमि देशों का अंतिम गेम क्या है?

संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक सीरिया में चल रहे युद्ध के दौरान लाखों लोग मारे गए हैं, लेकिन उन मौतों की केवल एक अंश सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद द्वारा कथित तौर पर 40 की पुष्टि वाले रासायनिक हमलों के परिणामस्वरूप हुआ था। जो देश में सशस्त्र विपक्षी समूहों के …

Read More »

‘द मुसलमान’ दुनिया का पहला ऐसा अखबार जो 91 साल से हाथ से लिखा जा रहा है

चेन्नई की प्रतिष्ठित वाल्लाजह मस्जिद के बगल में एक छोटी सी तंग गली में स्थित अख़बार ‘द मुसलमान’ के दफ्तर में जब आप जायेंगे तो वहां आपको रीड कलम, स्याही की बोतलें, कागज के ढेर दिखाई देंगे, जिनपर सबसे पहले आपकी नजरें जाती हैं। यह शायद दुनिया का ऐसा पहला …

Read More »

‘आरोपियों के समर्थन की परंपरा, पूरे समाज के लिए खतरनाक साबित हो सकता है’

उन्नाव और कठुआ में होने वाली सामूहिक बलात्कार की 2 वारदातों ने इस समय पूरे देश को झिंझोड़ कर रख दिया है। इसकी सबसे अहम वजह है सत्ता वर्ग का रवैया जो सीधे सीधे आरोपियों को बचाने का नजर आ रहा है। Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के …

Read More »

उन्नाव और कठुआ में आरोपियों का संबंध एक विशेष राजनीतिक पार्टी से है, वह यह समझते हैं कि उनका कोई कुछ बिगाड़ नहीं सकता

मछली सर से सड़ती है, यह पुरानी कहावत है। कठुआ और उन्नाव के भयानक घटनाओं की असल जड़ें आज के राजनीतिक माहौल में नहीं मिलेंगी। बल्कि हमको लगभग 80 साल पहले यह सफर शुरू करना पड़ेगा। Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये एक आठ साला …

Read More »

‘हम विकास के उस स्थान पर पहुंच चुके हैं जहां हैवानियत ने इंसानियत पर जीत दर्ज करली है’

हम सब विकास के उस स्थान पर पहुंच चुके हैं जहां हैवानियत ने इंसानियत पर जीत दर्ज करली है। अब ऐसा लगने लगा है कि शैतानियत का झंडा बुलंद होता चला जाएगा। कल रात भर नींद से ऑंखें बहुत दूर रहीं। नींद इस लिए नहीं आ रही थी क्योंकि ज़हन …

Read More »

बेटी…तुम्हे इंसान नही गाय या हिरण होना था, तो आपको इंसाफ मिल सकता था: रवीश कुमार

दुष्कर्म, रेप, बलत्कार, हैवानियत, शैतानियत, बेशर्मी और हत्या,निर्ममता बच्ची के साथ नही बल्कि समाज के साथ साथ पूरे हिन्दुस्तान के साथ हुई लेकिन बावज़ूद इसके धर्मनिर्पेक्षता आँखों पर पट्टी बांध कर सो गया है, क्योंकि ये घटना मस्जिद में नही किसी ग़ैर मुस्लिम बेटी के साथ नही मंदिर में हुई …

Read More »

कठुआ में जो हुआ, वो भारत के इतिहास में एक काला धब्बा बन कर रह जायेगा: रवीश कुमार

जम्मू, कथुआ के एक स्थानीय मंदिर के प्रार्थना कक्ष के अंदर 8 साल की बच्ची को अपरहण कर लाया गया और अनुष्ठान के बाद उसे ड्रग्स दे कर उसके साथ 3 बार सामुहिक बलात्कार किया गया। Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये इतना ही नहीं, …

Read More »
TOPPOPULARRECENT