Wednesday , December 13 2017

Hadis Shareef

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अब्दुल्लाह बिन मसऊद रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है के, रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फरमाया, औरत की दालान की नमाज़ बेहतर है सेहन की नमाज़ से और कमरे की नमाज़ बेहतर है दालान की नमाज़ से (अबू दाऊद)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

रसूल-ए-पाक (स०अ०व०)ने फ़रमाया लोगो याद रख्खो मेरे बाद कोई नबी नहीं और तुम्हारे बाद कोई उम्मत नहीं लिहाज़ा अपने रब की इबादत करना , पांच वक़्त की नमाज़ पढना ,रमजान के रोज़े रखना ख़ुशी खुशी अपने माल की ज़कात देना, अपने रब के घर का हज करना

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अबू मूसा अशअरी रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है के रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) के पास कोई साएल या हाजतमंद आता तो हुजूर (स०अ०व०) अपने सहाबा से फरमाते‘ उसकी मदद करो और उसकी शिफारिश करो ताके तुम्हें शिफारिश का सवाब मिले (बुखारी शरीफ)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अब्दुल्लाह बिन अब्बास रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है,रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फरमाया,अल्लाह तआला हमेशा अपने बन्दों के काम आता है जब तक ये बंदा दुसरे मुसलमान के काम में लगा रहता है । (तिबरानी)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अब्दुल्लाह बिन अब्बास रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है, रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) पैमाना और तराजू रखने वाले को नसीहत फरमाते के नाप तोल में कमी न करो। (तिरमिज़ी)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अनस रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है कि रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया, दुआ इबादतों का मगज है। अल्लाह तआला के नज़दीक दुआ से जियादा कोई चीज़ बुज़ुर्ग नहीं। (तिरमिज़ी)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अब्दुल्लाह बिन उमर रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है के, रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फरमाया, दुनिया की बेहतरीन मताअ (दौलत ) नेक औरत है (मुस्लिम)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अब्दुल्लाह बिन उमर रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है के, रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) फरमाया, जो शख्स अपने माल की हिफाज़त करते हुए कत्ल किया जाए, वो शहीद है (बुखारी शरीफ)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अब्दुल्लाह बिन उमर रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है कि रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) से किसी ने पुछा कौनसी कमाई अफज़ल है? रसूल-ए-पाक (स०अ०व०)ने फरमाया अपने हाथ से काम करना या तिजारत करके कमाना। (तिबरानी)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

खातून-ए-जन्नत हजरत सय्यदह फातिमा ज़हरा रज़ी अल्लाहु तआला अनहा से रिवायत है रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया अल्लाह तआला सुबह सादिक से लेकर तुलू-ए-आफताब तक अपने बन्दों को रिजक तकसीम करता है।(बेहकी)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अबू हुरैरा रज़ी अल्लाहु तआला अनहो से रिवायत है रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया किसी औरत को ये जाएज़ नहीं के वो अपने शौहर की इजाज़त के बगैर रोज़ा रख्खे या बिला इजाज़त किसी दुसरे के घर में जाए या बगैर इजाज़त किसी को कुछ दे। (बुखारी

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अबू हुरैरा रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया हर सुबह दो फरिश्ते आसमान से उतर कर दुआ करते हैं एक कहता है इलाही नेक काम करने वालों को जियादा दे दूसरा कहता है बखील के माल को तलफ करदे (बुखारी व मुस्लि

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अबू सईद खदरी रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है रसूल-ए-पाक (स०अ०व०)ने फ़रमाया बेहतर मजलिस वो है जो कुशादह हो (अबू दाऊद)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अबू हुरैरा रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया मस्जिद में जमाअत के लिए जाने वाले का हर कदम एक नेकी को वाजिब करता है और एक गुनाह को मिटाता है (इब्न हेबान)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अबू हुरैरा रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है, रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया सुबह व् शाम मसाजिद की तरफ जाने वालों के लिए अल्लाह तआला सुबह शाम मेहमानी का सामान तय्यार करता है. (बुखारी व मुस्लिम)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अनस रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया दुआ इबादतों का मगज है अल्लाह तआला के नज़दीक दुआ से जियादा कोई चीज़ बुज़ुर्ग नहीं। (तिरमिज़ी)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत नोमान बिन बशीर रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया दुआ एक इबादत है (मसनद अहमद)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अब्दुल्लाह बिन अब्बास रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है रसूल-ए-पाक (स०अ०व०)ने फ़रमाया फितना व फसाद के ज़माने में जो शख्स मेरी सुन्नत पे मजबूती से काइम रहेगा उसको सौ शहीदों का सवाब मिलेगा (बेहकी)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अबू मूसा अशअरी रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है के रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) के पास कोई साएल या हाजतमंद आता तो हुजूर (स०अ०व०) अपने सहाबा से फरमाते ‘उसकी मदद करो और उसकी शिफारिश करो ताके तुम्हें शिफारिश का सवाब मिले (बुखारी शरीफ)

Read More »

हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अबू फोतादह रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया जिस शख्स ने मुफलिस मकरूज़ को मुहलत दी या माफ़ करदिया उसको अल्लाह तआला कयामत की सख्तियों और घबराहट से महफूज़ कर देगा (मुस्लिम)

Read More »
TOPPOPULARRECENT