अंतरराष्ट्रीय योग दिवस में सुर्य नमस्कार नहीं होगा: आयुष मंत्री

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस में सुर्य नमस्कार नहीं होगा:  आयुष मंत्री
Click for full image

नयी दिल्ली। केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक ने आज कहा कि इस वर्ष अंतरराष्ट्रीय योग दिवस समारोह का हिस्सा ‘सूर्य नमस्कार आसन’ नहीं होगा और ‘ओम’ का उच्चारण अनिवार्य नहीं होगा हालांकि इसके बिना योग अधूरा है। इस आयोजन पर करोडों रुपये खर्च होने का अनुमान है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

‘सूर्य नमस्कार’ के बारे में उठे विवाद के बारे में पूछे जाने पर नाइक ने कहा, सूर्य नमस्कार आसन पिछले वर्ष भी नहीं था और इस बार भी नहीं है। यह जटिल है। जिन लोगों के लिए यह नया है उनके लिये इसे 45 मिनट में करना कठिन है। इसलिए इसे नहीं लिया है। इस आसन के बारे में विवाद रहा है क्योंकि मुसलमानों के एक समूह का कहना है कि उनकी आस्था इसे करने की अनुमति नहीं देता है। पिछले वर्ष 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस समारोह का नेतृत्व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया था और राजपथ पर योग किया था। इस बार वे चंडीगढ में ऐसा करेंगे।

उन्होंने समारोह के दौरान ‘ओम’ के उच्चारण को लेकर विवाद को खारिज करते हुए कहा कि इसे अनिवार्य नहीं बनाया गया है। केंद्रीय आयुष मंत्री ने कहा, जब भी कोई अच्छा काम होता है तब हमेशा कुछ विरोध होता ही है। इस वर्ष कोई विरोध नहीं हुआ है। हमने इसे अनिवार्य नहीं बनाया है।

Top Stories