Friday , December 15 2017

अकबर ओवैसी की पुलिस तहवील ख़त्म, लेकिन मुश्किलात में इज़ाफ़ा

हैदराबाद 17 जनवरी : मजलिस के रुकन असेंबली अकबर ओवैसी की मुश्किलात में आज मज़ीद इज़ाफ़ा हो गया क्योंके निज़ामबाद में अदालत ने एक और नफ़रतअंगेज़ तक़रीर मुक़द्दमा में उन्हें 19 जनवरी से पहले पेश करने का हुक्म दिया जबके मेदक की अदालत ने 2005 तशद

हैदराबाद 17 जनवरी : मजलिस के रुकन असेंबली अकबर ओवैसी की मुश्किलात में आज मज़ीद इज़ाफ़ा हो गया क्योंके निज़ामबाद में अदालत ने एक और नफ़रतअंगेज़ तक़रीर मुक़द्दमा में उन्हें 19 जनवरी से पहले पेश करने का हुक्म दिया जबके मेदक की अदालत ने 2005 तशद्दुद मुक़द्दमा में उन्हें पेश होने की हिदायत दी है।

अकबर ओवैसी को ज़िला आदिलबाद में निर्मल टाउन पुलिस ने काबिल एतराज़ तक़रीर और एक मख़सूस फ़िर्क़ा को निशाना बनाने के इल्ज़ाम में 8 जनवरी को गिरफ़्तार किया था।

निज़ामबाद पुलिस ने 8 दिसमबर को की गई तक़रीर के सिलसिले में भी अकबर ओवैसी के ख़िलाफ़ मुक़द्दमा दर्ज किया है। निज़ामबाद जुडीशीयल मजिस्ट्रेट की अदालात ने आज मुक़ामी पुलिस की दायर दायर किये गये प्रिज़न ट्रांज़िट वारंट पर अकबर ओवैसी को पेश करने की हिदायत दी।

मेदक डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने भी पट्टनचेरू पुलिस को 7 साल क़दीम मुक़द्दमा में अकबर ओवैसी को पेश करने की हिदायत दी। ये मुक़द्दमा अकबर ओवैसी के अलावा उन के भाई और हैदराबाद एम पी असद ओवैसी और 21 दीगर के ख़िलाफ़ 2005 में दर्ज किया गया था।

हैदराबाद, मुंबई क़ौमी शाहराह की तौसी के दौरान मतन्गी में मस्जिद की शहादत के ख़िलाफ़ मजलिस के एहतिजाज पर ताअज़ीरात-ए-हिंद की दफ़ा 153(A) , 147 और 186 वग़ैरा के तहत ये मुक़द्दमा दर्ज किया गया। मेदक पुलिस ओहदेदार इमकान है के कल आदिलबाद रवाना होंगे।

इस दरान निर्मल की अदालत ने अकबर ओवैसी की दरख़ास्त पर ख़ुसूसी क़ैदी का मौक़िफ़ फ़राहम किया है। इस के अलावा उन्हें 22 जनवरी तक अदालती तहवील में दे दिया गया।

निर्मल की अदालत ने उन्हें 12 ता 16 जनवरी पुलिस तहवील में दिया था, लेकिन उन्हें आज सुबह ही पुलिस तहवील ख़त्म होने से एक दिन पहले अदालत में पेश कर दिया गया। चुनांचे उन्हें 22 जनवरी तक अदालती तहवील में भेज दिया गया। एक सीनीयर पुलिस ओहदेदार ने कहा कि तहवील के दौरान अकबर ओवैसी ने तआवुन नहीं किया और अदालत को इस से मतला कर दिया गया है।

उन्हों ने बताया कि अकबर ओवैसी का बयान हम ने कलमबंद कर लिया। बताया जाता हीके अकबर उद्दीन से नफ़रतअंगेज़ तक़रीर के इल्ज़ामात की तहक़ीक़ात के नताइज से पुलिस ख़ुश नहीं है क्योंके अकबर ओवैसी ने पुलिस की पूछताछ के दौरान मुम्किना तआवुन नहीं किया, जिस की शिकायत अदालत से करदी गई है।

एक पुलिस ओहदेदार ने बताया कि हम ने उन के बयानात रिकार्ड कर लिए हैं। उन्हें मज़ीद पुलिस तहवील में रखना फ़ुज़ूल है। दरीं असना पुलिस ने अदालत में एक अर्ज़ी दाख़िल करते हुए अकबर ओवैसी की तक़रीर की सी डी में रिकार्ड की उन की असल आवाज़ से तजज़िया करने के लिए इजाज़त तलब की है।

तवक़्क़ो हीके अदालत इस अर्ज़ी पर बहुत जल्द समाअत करेगी। अकबर ओवैसी ने पुलिस की पूछताछ के दौरान ये दावा किया हीका सी डी में रिकार्ड उन की आवाज़ नक़ली है और उन के इमेज को मुतास्सिर करने के लिए किसी ने नक़्क़ाली की है लेकिन पुलिस ने अकबर ओवैसी के दावा की तसदीक़ नहींकी है।

पुलिस तहक़ीक़ात के दौरान अकबर ओवैसी ने सी डी के ज़रीये दिखाया जाने वाली तक़रीर में पाई जाने वाली आवाज़ को फ़र्ज़ी क़रार देने की बिना अकबर ओवैसी की तक़रीर के सी डी और आवाज़ के नमूने जांच की ख़ातिर चन्दीगढ़ के फ़ारनसक लयाब को पुलिस की सख़्त चौकसी में रवाना करने की भी इत्तिलाआत मिली हैं। बताया जा रहा हीके चन्दीगढ़ से रिपोर्ट हासिल होने में कम अज़ कम एक हफ़्ता दरकार है।

TOPPOPULARRECENT