Tuesday , December 19 2017

अकलेती मालीयाती स्क़ाम , केशोराव‌ की ज़मानत मंज़ूर

रियास्ती अक़ल्लीयती मालीयाती कारपोरेशन स्क़ाम के मुल्ज़िम नंबर 4 बी केशव राव‌ की ज़मानत मंज़ूर होगई है । नामपली क्रीमिनल कोर्ट की छटवें ऐडीशनल चीफ़ मेट्रोपोलैटिन मजिस्ट्रेट ने केशव राव‌ की ज़मानत मंज़ूर करते हुए रिहाई के अहकाम जारी क

रियास्ती अक़ल्लीयती मालीयाती कारपोरेशन स्क़ाम के मुल्ज़िम नंबर 4 बी केशव राव‌ की ज़मानत मंज़ूर होगई है । नामपली क्रीमिनल कोर्ट की छटवें ऐडीशनल चीफ़ मेट्रोपोलैटिन मजिस्ट्रेट ने केशव राव‌ की ज़मानत मंज़ूर करते हुए रिहाई के अहकाम जारी किए ।

क्राईम इनोसटी गैशन डिपार्टमैंट (सी आई डी) ने केशव राव‌ की दरख़ास्त ज़मानत की मुख़ालिफ़त की थी लेकिन अदालत ने मुल्ज़िम की ज़मानत मंज़ूर की है।

अक़ल्लीयती मालियती कारपोरेशन के करोड़ों रुये स्क़ाम में सी आई डी ने वन कार्ड वन नेशन स्कीम के सी वे के साई कुमार , एन वीनकटा रमन , वजए बैंक के स्सिटैंट मैनेजर नवीन सागर और बी केशव राव‌ को गिरफ़्तार करके जेल भेज दिया था ।

सी आई डी ने अपनी तहक़ीक़ात में ये पता लगाया है कि केशव राव‌ अक़ल्लीयती मालियती कारपोरेशन और वजए बैंक के दरमयान सा लस्सी का रोल अदा करते हुए वजए बैंक में करोड़ों रुये के फिक्स्ड डिपाज़िटस रखवाने में अहम रोल अदा किया था ।

बावसूक़ ज़राए ने बताया कि सी आई डी कोर्ट ने तहक़ीक़ाती एजैंसी को गिरफ़्तार मुल्ज़िमीन के तहरीर और दस्तख़त के नमूने भी हासिल करने की इजाज़त दी है ताकि सी आई डी चार्ज शीट में फ़ारनसक माहिरीन के ज़रीया तहरीर की सदाक़त करवा सकीं ।

TOPPOPULARRECENT