Tuesday , December 19 2017

अक़लियतों के जान-ओ-माल की हिफ़ाज़त में हुकूमत आसाम नाकाम

आसाम में बोडो इंतहापसंदों के तशद्दुद के वाक़ियात में अक़लियती तबक़ा के जानी-ओ-माली तबाही की शदीद मज़म्मत करते हुए क़ाज़ी सय्यद अरशद पाशाह सीनीयर क़ाइद कांग्रेस-ओ-साबिक़ वाइस चैरमैन मुंसिपल कौंसिल ने मर्कज़ी हुकूमत पर ज़ोर दिया कि आस

आसाम में बोडो इंतहापसंदों के तशद्दुद के वाक़ियात में अक़लियती तबक़ा के जानी-ओ-माली तबाही की शदीद मज़म्मत करते हुए क़ाज़ी सय्यद अरशद पाशाह सीनीयर क़ाइद कांग्रेस-ओ-साबिक़ वाइस चैरमैन मुंसिपल कौंसिल ने मर्कज़ी हुकूमत पर ज़ोर दिया कि आसाम में मुसलमानों पर क़ातिलाना हमलों, अक़लियती तबक़ा के बचों और ख़वातीन को गोली मार कर हलाक करने के वाक़ियात में क़ातिलों और फ़िर्कापरस्त गुंडा अनासिर के ख़िलाफ़ सख़्त क़दम उठाने में आसाम की तरूण गगोई हुकूमत नाकाम होगई है।

एक एसे वक़्त जबकि मुल्क एक नाज़ुक दौर से गुज़र रहा है आम चुनाव 2014 के मरहला वार इनइक़ाद का सिलसिला ख़त्म होने को आरहा है तो आसाम में इंतिहापसंद ग्रुपस की फायरिंग में अक़लियती तबक़ा के मर्द-ओ-ख़वातीन और बच्चे क़त्ल किए जा रहे हैं।

मुतास्सिरा इलाक़ों में फ़ौज के फ्लैग मार्च से ख़ौफ़-ओ-दहश्त के माहौल को ख़त्म करने में कोई मदद नहीं मिली है। अगर चेके मर्कज़ी हुकूमत ने बहाली अमन के सिलसिले में तमाम मदद देने का तीक़न दिया है लेकिन फ़िर्कावाराना फ़सादाद भड़काने वाले अभी तक आज़ाद हैं। ये इत्तेलाआत भी हैंके फ़सादाद करने के लिए अवाम को उकसाया जा रहा है।

क़ाज़ी सय्यद अरशद पाशाह ने मर्कज़ी हुकूमत और सदर ए आई सी सी सोनिया गांधी से अपील की के वो आसाम की तरूण गगोई हुकूमत को बरतरफ़ करके सदरराज नाफ़िज़ करें और इंतहापसंदों के ख़िलाफ़ सख़्त इक़दामात कारे।

TOPPOPULARRECENT