Sunday , September 23 2018

अक़लीयती इदारों के मुलाज़मीन में डिसिप्लिन का फ़ुक़दान

डिप्टी चीफ मिनिस्टर जनाब मुहम्मद महमूद अली को अक़लीयती इदारों में डिसिप्लिन की कमी का शख़्सी तौर पर मुशाहिदा करने का मौक़ा मिला। आज वो सुबह 11 बजे अचानक वक़्फ़ बोर्ड पहुंचे तो उस वक़्त बेशतर मुलाज़मीन गैर हाज़िर थे।

डिप्टी चीफ मिनिस्टर जनाब मुहम्मद महमूद अली को अक़लीयती इदारों में डिसिप्लिन की कमी का शख़्सी तौर पर मुशाहिदा करने का मौक़ा मिला। आज वो सुबह 11 बजे अचानक वक़्फ़ बोर्ड पहुंचे तो उस वक़्त बेशतर मुलाज़मीन गैर हाज़िर थे।

उन्हों ने मुलाज़मीन की हाज़िरी से मुताल्लिक़ तफ़सीलात पेश करने की हिदायत दी लेकिन ओहदेदारों ने बायो मैट्रिक सिस्टम का हवाला देते हुए हाज़िरी रजिस्टर्स की अदमे मौजूदगी का बहाना बना दिया।वक़्फ़ बोर्ड के कई सेक्शन्स में ओहदेदार और मुलाज़मीन 11 बजे तक भी काम पर रुजू नहीं हुए।

ओहदेदारों ने डिप्टी चीफ मिनिस्टर को बताया कि बेशतर मुलाज़मीन सरकारी काम से बाहर गए हुए हैं लेकिन जनाब महमूद अली ने बायो मैट्रिक सिस्टम का आज की हाज़िरी का प्रिंट पेश करने की हिदायत दी। हज हाउज़ में अवाम ने डिप्टी चीफ मिनिस्टर से मुलाज़मीन के रवैया और गैर हाज़िरी की शिकायत की।

TOPPOPULARRECENT