Sunday , December 17 2017

अक़लीयती इसकीमात की निगरानी के लिये चार इलाक़ाई सेंटर्स का क़ियाम

रियास्ती हुकूमत ने अक़लीयती मालीयाती कारपोरेशन के तहत अमल की जाने वाली मुख़्तलिफ़ इसकीमात की निगरानी और मूसिर अमल आवरी के लिए चार इलाक़ाई सेंटर्स के क़ियाम को मंज़ूरी दी है।

रियास्ती हुकूमत ने अक़लीयती मालीयाती कारपोरेशन के तहत अमल की जाने वाली मुख़्तलिफ़ इसकीमात की निगरानी और मूसिर अमल आवरी के लिए चार इलाक़ाई सेंटर्स के क़ियाम को मंज़ूरी दी है।

इस सिलसिला में आज सेक्रेटरी अक़लीयती बहबूद दाना किशोर ने जी ओ ऐम ऐस 127 जारी किया। इस के तहत नए इलाक़ाई सेंटर्स हैदराबाद के इलावा निज़ाम आबाद, कड़पा और विजए वाड़ा में क़ायम किए जाऐंगे।

तेलंगाना, रायलसीमा और साहिली आंधरा में एक, एक मर्कज़ के क़ियाम को मंज़ूरी दी गई है। अक़लीयती फैनान्स कारपोरेशन 2008 तक 6 करोड़ रुपय के स्कालरशिप और दीगर इसकीमात पर अमल करता था लेकिन इसकीमात में तौसीअ के बाद इस के बजट में 370 करोड़ तक इज़ाफ़ा होगया जिस के बाइस अज़ला में एकज़ीकेटव डायरेक्टर की ज़िम्मेदारीयों में इज़ाफ़ा होगया।

एकज़ीकटीव डायरेक्टर और उन का स्टाफ़ रीजनल ऑफीसरस से तआवुन करेगा।इस सिलसिला में कोई ज़ाइद ख़र्च को मंज़ूरी नहीं दी जाएगी। नायब सदर नशीन-ओ-मेनीजिंग डायरेक्टर अक़लीयती मालीयाती कारपोरेशन को हिदायत दी गई है कि वो इलाक़ाई सेंटर्स के क़ियाम के सिलसिला में ज़रूरी क़दम उठाएं।

TOPPOPULARRECENT