Saturday , November 18 2017
Home / Hyderabad News / अक़ल्लीयतों के लिए हुकूमत के दावे मगरमच्छ के आँसू

अक़ल्लीयतों के लिए हुकूमत के दावे मगरमच्छ के आँसू

हैदराबाद 13 मार्च (सियासत न्यूज़) इंचार्ज बहादुर पूरा असैंबली तलगोदीशम एसए क़ैसर ने हुकूमत के अक़ल्लीयती बजट को मगरमच्छ के आँसू क़रार देते हुए कहा कि कांग्रेस गुज़शता बरसों की तरह इमसाल भी अक़ल्लीयतों का बजट नाकाफ़ी जारी करके एक

हैदराबाद 13 मार्च (सियासत न्यूज़) इंचार्ज बहादुर पूरा असैंबली तलगोदीशम एसए क़ैसर ने हुकूमत के अक़ल्लीयती बजट को मगरमच्छ के आँसू क़रार देते हुए कहा कि कांग्रेस गुज़शता बरसों की तरह इमसाल भी अक़ल्लीयतों का बजट नाकाफ़ी जारी करके एक और मर्तबा मुस्लमानों को दिलासा का झांसा कर रही ही।

उन्हों ने बताया कि गुज़शता साल बजट के 122 करोड़ अब तक जारी नहीं किए गए जिस से वाज़िह होता हीका हुकूमत अक़ल्लीयतों के लिए किस क़दर फ़िक्रमंद हैं। उन्हों ने कहा कि चंद्रा बाबू नायडू ने ना सिर्फ़ अक़ल्लीयतों के लिए बेशुमार असकीमात को रूबा अमल लाया बल्कि शहर के क़लब में वाक़्य हज हाॶज़ का क़ियाम अमल में लाकर आज़मीन-ए-हज्ज के लिए नाक़ाबिल फ़रामोश ख़िदमात अंजाम दी।

इसी तरह चंद्रा बाबू नायडू ने तलगोदीशम में अक़ल्लीयतों को ख़ातिरख़वाह जगह दे कर मुस्लमानों से इंसाफ़ किया । एसए क़ैसर ने याददेहानी करवाई कि मिस्टर नायडू ने ऐलान किया कि तलगोदीशम को इक़तिदार हासिल होगा तो वो ना सिर्फ़ 2500 करोड़ रुपय बजट मुख़तस करेगी बल्कि उन असकीमात को दुबारा राइज करेगी जिन्हें हुकूमत ने यकसर नजरअंदाज़ कर दिया।

उन्हों ने बताया कि नायडू ने इस्लामी बैंकिंग निज़ाम के इलावा इमाम-ओ-मॶज़नीन मसाजिद की तनख़्वाहों, दीनी मदारिस के इस्तिहकाम बिलख़सूस दीनी मदारिस में ज़ेर-ए-तालीम तलबा में स्कालर शपस के इलावा दीगर इक़दामात का भी ऐलान किया।

एसए क़सर ने यूथ कांग्रेस वमशी चन्द्र रेड्डी की जानिब से चंद्रा बाबू नायडू के फ़र्ज़ंद लोकेश नायडू कोचॉकलेट ब्वॉय क़रार देने पर कहा कि मिस्टर वमशी को पहले सयासी ऐनक के इस्तिमाल की ज़रूरत है क्योंकि वो सदर यूथ कांग्रेस के ओहदा पर रबर स्टैंप हैं । नारा लोकेश जो कि अब तक पसेपर्दा सियासत में हिस्सा ले रहे थे वो अब रास्त अवाम में पहुंचेंगे ।

नारा लोकेश के अमली तौर पर सियासत में दाख़िला पर ना सिर्फ़ सदर ए पी यूथ कांग्रेस वमशी चन्द्र रेड्डी बौखलाहट का शिकार होचुके हैं बल्कि कांग्रेस के इलावा टी आर ऐस, वाई ऐस आर कांग्रेस और बी जे पी के इलावा दीगर अप्पोज़ीशन जमातों के कद्दावर क़ाइदीन भी ख़ाइफ़ हैं ।

TOPPOPULARRECENT