Sunday , August 19 2018

अक़वामे मुत्तहिदा की सलामती कौंसिल का ग़ाज़ा मुज़ाकरात के अहया पर ज़ोर

अक़वामे मुत्तहिदा की सलामती कौंसिल ने ग़ाज़ा पट्टी में जंग के दोबारा आग़ाज़ की मुज़म्मत करते हुए इसराईल और फ़लस्तीनीयों से बातचीत का अहया करने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया है।

अक़वामे मुत्तहिदा की सलामती कौंसिल ने ग़ाज़ा पट्टी में जंग के दोबारा आग़ाज़ की मुज़म्मत करते हुए इसराईल और फ़लस्तीनीयों से बातचीत का अहया करने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया है।

बर्तानिया के सफ़ीर मार्क ल्याल ग्रांट ने सलामती कौंसिल में एक ब्यान पढ़ कर सुनाया जिस में मिस्र की सालिसी से तय शुदा इंसानी बुनियादों पर जंग बंदी के ख़ातमा पर फ़िक्रमंदी ज़ाहिर की गई है।

उन्हों ने कहा कि सलामती कौंसिल फ़रीक़ैन पर ज़ोर देती है कि फ़ौरी तौर पर इंसानी बुनियादों पर जंग बंदी का अहया और क़ाहिरा में मुज़ाकरात का अहया करें।

TOPPOPULARRECENT