Tuesday , December 12 2017

अक्लियतों के हुकुक की पामाली नहीं होने देंगे : अकील अख्तर

एमएसडीपी की न्शस्त के बाद साहबगंज सर्किट हाउस में आला इस्लाम एजुकेशन सेंटर के डाइरेक्टर और पाकुड़ एसेम्बली हल्का के एमएलए मौलाना अकील अख्तर ने प्रेस कोन्फ्रेंस के दौरान सहाफ़ियों ने जब ये सवाल किया के अब तो लाल बत्ती मिल जाएगी चुं

एमएसडीपी की न्शस्त के बाद साहबगंज सर्किट हाउस में आला इस्लाम एजुकेशन सेंटर के डाइरेक्टर और पाकुड़ एसेम्बली हल्का के एमएलए मौलाना अकील अख्तर ने प्रेस कोन्फ्रेंस के दौरान सहाफ़ियों ने जब ये सवाल किया के अब तो लाल बत्ती मिल जाएगी चुंके वज़ीर का दर्जा मिल गया है। जवाब में उन्होने कहा के मुझे लाल बत्ती नहीं बल्कि अवाम खास कर अक्लियतों की फ्लाह रियासती हुकुयांत से चाहते हैं। इस लिए मैंने इसे अपनी ज़िंदगी का मिशन बना लिया है। अक्लियतों के माशी तालीमी और सेहत के शोबे में जब तक मजबूती नहीं आती हम खामोश नहीं बैठेंगे। इसलिए अपनी हुकूमत पर मुसलसल दबाओ बनाए हुये हैं जिसकी वजह से कई मुतालबों को तस्लीम कराया गया है और इसे एसेम्बली से पास भी कराया गया है।

जब उनसे पूछा गया के बड़हरु ब्लॉक से पाकुड़ सड़क की तामीर मुकम्मील क्यों नहीं हुयी और पार्लियामानी इंतिखाब के मद ए नज़र ज़ाब्ता एखलाक भी नाफ़िज़ होने वाला है इस पर उन्होने कहा के हर साल में दिन रात काम करके सड़क की तामीर कराई जाएगी। सहाफ़ियों ने जब सवाल किया के मर्कज़ी हुकूमत की तरफ से एमएसडीपी मंसूबा मद में झारखंड के 6 अजला के अक्लियतों की फ्लाह के लिए 11-12 में पाकुड़ ज़िला के लिए 55 करोड़ रुपए दस्तायाब कराये गए थे इस के बावअजूद अक्लियतों के मुफाद में कोई काम नहीं हुआ। इस मौके पर एमएसडीपी के मेम्बर और झारखंड मुक्ति मोर्चा साहबगंज सदर मोहम्मद तबरेज भी मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT