Monday , July 16 2018

अखिलेश- मायावती की नजदीकियों से योगी आदित्यनाथ की घबराहट बढ़ी, कसा तंज

कह रहीम कैसे निभे, केर-बेर को संग। यह कहना है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का। दरअसल योगी से पूछा गया था कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी की बढ़ रही नजदीकियों को वह किस रुप में देखते हैं।

बता दें कि बसपा ने गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव में सपा उम्मीदवारों को समर्थन देने का मन बनाया है।

योगी ने कहा कि जिस तरह केर और बेर एक साथ नहीं रह सकते उसी तरह नजदीक आने का प्रदर्शन कर रहे दोनों दल की दूरियां कम नहीं हो सकतीं।

जब उनसे पूछा गया कि इसमें कौन केर है और कौन बेर है तो उन्होंने कहा कि स्टेट गेस्ट हाऊस कांड किसने करवाया था। लखनऊ में बने स्मारकों को ध्वस्त करने की चेतावनी कौन दे रहा था। यह साफ है कि दोनों में एक केर है और एक बेर। केर और बेर एक साथ नहीं रह सकते।

TOPPOPULARRECENT