Wednesday , December 13 2017

अखिलेश यादव के ख़िलाफ़ स्याह परचमों के साथ एहितजाजी मुज़ाहिरे

मुज़फ़्फ़र नगर में फ़िर्कावाराना फ़सादात पर अपोज़िशन पार्टियों और अक़लियती क़ाइदीन की जानिब से शदीद तन्क़ीदों के बाद चीफ़ मिनिस्टर उत्तर-प्रदेश अखिलेश यादव आज जब फ़िर्कावाराना फ़सादात से मुतास्सिरा इलाक़ों का दौरा कर रहे थे, अवाम ने उनका

मुज़फ़्फ़र नगर में फ़िर्कावाराना फ़सादात पर अपोज़िशन पार्टियों और अक़लियती क़ाइदीन की जानिब से शदीद तन्क़ीदों के बाद चीफ़ मिनिस्टर उत्तर-प्रदेश अखिलेश यादव आज जब फ़िर्कावाराना फ़सादात से मुतास्सिरा इलाक़ों का दौरा कर रहे थे, अवाम ने उनका स्याह पर्चमों के साथ इस्तिक़बाल किया और नारे लगाए।

फ़साद मुतास्सिरीन ने अखिलेश यादव के सामने एहतिजाज करते हुए कहा कि उन्हें इस दौरे की अब फ़ुर्सत मिली है। अखिलेश यादव ने पहले क़ाइल मौज़ा का दौरा किया जहां 27अगस्त को लड़की के साथ छेड़छाड़ के वाक़िये पर तीन अफ़राद का क़त्ल किया गया था। इसके बाद से ज़िला भर में कशीदगी का माहौल पैदा हुआ।

स्याह पर्चमों का मुज़ाहरा करते हुए देहातों में अवाम ने अखिलेश यादव हुकूमत की नाकामी के ख़िलाफ़ नारे लगाए और कहा कि ये हुकूमत फ़िर्कावाराना फ़सादात पर क़ाबू पाने में बुरी तरह नाकाम हो चुकी है। इन फ़सादात में 47अफ़राद हलाक हुए हैं। देही अवाम ने इल्ज़ाम आइद किया कि चीफ़ मिनिस्टर ने उनकी याददाश्त को क़बूल नहीं किया और वो सिर्फ़ बाहर के अफ़राद से मुलाक़ात करते रहे। इस मर्तबा भी अवाम ने एहितजाजन उन्हें कोई याददाश्त पेश नहीं की। दौरे के दौरान चीफ़ मिनिस्टर अखिलेश यादव ने अख़बारी नुमाइंदों से बात करते हुए कहा कि यहां होने वाले वाक़ियात अफ़सोसनाक हैं।

देही अवाम ने ना सिर्फ़ अपने नौजवानों बच्चों को खोया है बल्कि ये हमारा भी नुक़्सान है। हमें पहले ही हर एक से अमन की अपील की है। मेरी हुकूमत फ़साद फैलाने वालों को सख़्त सज़ा देगी। बादअज़ां चीफ़ मिनिस्टर मालिक पूरा और खंडला के दौरे पर रवाना हुए। चीफ़ मिनिस्टर उत्तरप्रदेश का ये दौरा वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह के दौरे से एक दिन क़ब्ल हो रहा है। वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह पीर को फ़सादात से मुतास्सिरा मुज़फ़्फ़रनगर का दौरा करते हुए हालात का बग़ौर जायज़ा लेंगे।

रियासती असेंबली का मानसून सेशन भी अनक़रीब मुनाक़िद होने वाला है। वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह तवक़्क़ो है कि अखिलेश यादव के साथ सूरत-ए-हाल पर तबादला-ए-ख़्याल करेंगे। अपोज़िशन पार्टियों ने तय कर लिया है कि रियासती असेंबली में इस मसले पर हुकूमत के ख़िलाफ़ ज़बरदस्त हंगामा आराई की जाये।

अखिलेश यादव हुकूमत को मुज़फ़्फ़र नगर में फ़िर्कावाराना फ़सादात के साथ साथ अपोज़िशन पार्टियों की तन्क़ीदों का सामना है। इसी दौरान मुज़फ़्फ़र नगर में फ़सादात पर क़ाबू पाने में नाकाम पुलिस ओहदेदारों को मुअत्तल कर दिया गया है। सीनियर सुपरिंटेंडेन्ट पुलिस सुभाष चंद्रदूबे को फ़सादात पर क़ाबू पाने में नाकामी पर मुअत्तल किया गया और उनके ख़िलाफ़ महिकमा जाती तहक़ीक़ात का भी हुक्म दिया गया है। विज़ारत-ए-दाख़िला ने ये बयान जारी करते हुए उनकी मुअत्तली का ऐलान किया। सुभाष चन्द्रदूबे का यहां से 9 सितंबर को ही तबादला किया गया था।

TOPPOPULARRECENT