अखिलेश यादव को उनके फोन पर सैकड़ों बार जान से मारने की धमकी दी जा रही है- सपा नेता

अखिलेश यादव को उनके फोन पर सैकड़ों बार जान से मारने की धमकी दी जा रही है- सपा नेता

उत्तर प्रदेश के कन्नौज में समाजवादी पार्टी (एसपी) अध्यक्ष अखिलेश यादव की सभा में ‘जय श्री राम’ के नारे लगाए जाने का मामला बढ़ता नजर आ रहा है।
सोमवार को यूपी विधानसभा में समाजवादी पार्टी के विधायकों ने बीजेपी पर सनसनीखेज आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया।
इस दौरान नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने बीजेपी से अखिलेश यादव की जान को खतरा बताया। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव को फोन पर धमकी भरे कॉल आ रहे हैं और गालियां दी जा रही हैं। समाजवादी पार्टी के बयान से सदन में हंगामा मच गया। स्पीकर हृदयनारायण दीक्षित ने आधे घंटे के लिए विधानसभा स्थगित कर दी।
बता दें कि यूपी विधानसभा में आज राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के अभिभाषण पर चर्चा होनी थी और विपक्ष के सवालों का मंत्रियों को जवाब देना था। जैसे ही विधानसभा की कार्यवाही शुरू हुई विपक्ष के नेता रामगोविंद चौधरी ने अखिलेश की सुरक्षा के मुददे को उठाया लेकिन जब विधानसभा अध्यक्ष ह्रदय नारायण दीक्षित ने इस पर विचार करने से इंकार कर दिया तो एसपी सदस्य सदन में हंगामा करने लगे और प्रश्न काल को बाधित करने लगे।
‘अखिलेश को फोन पर धमकी और गालियां’
राम गोविंद चौधरी ने कन्नौज वाला मामला उठाते हुए कहा, ‘अखिलेश यादव की जान पर खतरा पैदा हो गया है। बीजेपी के लोग घबरा गए हैं, हमेशा उनकी मीटिंग मे व्यवधान उत्पन्न किया जा रहा है। मेरे दफ्तर में पूछताछ की जा रही है। इस तरह अखिलेश यादव उनके फोन पर सैकड़ों बार जान से मारने की धमकी दी जारही है। गाली दी जा रही है। अपमानित शब्दों का इस्तेमाल किया जा रहा है।’
उन्होंने आगे कहा, ‘कन्नौज की सभा में बीजेपी कार्यकर्ता अवैध रूप से घुसा था। इसी तरह एसपी की प्रेस कॉन्फ्रेंस में एलआईयू का इंस्पेक्टर पत्रकार बनकर पहुंचा था। सरकार ऐसे लोगों को सपॉर्ट करती है, जिससे साफ है कि सरकार की मंशा क्या है।’
अखिलेश के लिए पूरा सम्मान: सुरेश खन्ना
इस पर पलटवार करते हुए योगी सरकार के मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि बीजेपी के किसी कार्यकर्ता से या नेता से अखिलेश को खतरा नहीं है बल्कि समाजवादी पार्टी से पूरे समाज को खतरा है।
मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा, ‘अखिलेश सम्मानित सीएम रह चुके हैं, सम्मानित नेता हैं उनके लिए सम्मान कायम है। किसी तरह का अपमान नहीं। तो खतरा इनसे (समाजवादी पार्टी) से हैं पूरे समाज को खतरा।’
बता दें कि अखिलेश यादव ने हाल में दावा किया था कि उन्हें बीजेपी के एक नेता की ओर से धमकी भरा फोन और मैसेज आया था। यादव शनिवार को कन्नौज जिले में सपा के महिला सम्मेलन में पहुंचे थे। जब वह सभा को सम्बोधित कर रहे थे तभी जनता के बीच से गोविन्द शुक्ला नाम के युवक ने अखिलेश से बेरोजगारी पर सवाल किया। इस पर अखिलेश ने उससे पूछा कि तुम किसके आदमी हो? बीजेपी के तो नहीं हो? इतना कहने पर शुक्ला ने जय श्री राम का नारा लगाया।
इसके बाद अखिलेश ने पुलिस अधिकारी को भी फटकार लगाई थी और युवक को बाहर भेजने के लिए कहा था। अखिलेश ने कहा था, ‘एक बीजेपी नेता ने मुझे फोन और मेसेज करके जान से मारने की धमकी दी है। मेरी जान को खतरा है। धमकी का मेसेज मोबाइल में सेव है। एक-दो दिन में लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करूंगा।’

Top Stories