Tuesday , December 12 2017

अगर ट्रम्प ने मुसलमानों का डेटाबेस संकलित किया तो खुद को बतौर मुस्लिम रजिस्टर करा लूंगा, यहूदी नेता

वाशिंगटन। पूर्वाग्रहों के खिलाफ अमेरिका में सक्रिय संस्था एंटी डीफ़ामेशन लीग के यहूदी निदेशक का कहना है कि अगर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मुसलमानों का डेटाबेस संकलित किया तो वह खुद को बतौर मुसलमान रजिस्टर करा लेंगे। लेखक के अनुसार अपने बयान में जोनाथन ग्रीन ब्लाट ने कहा है कि ‘जिस दिन डोनाल्ड ट्रम्प ने मुसलमानों की रजिस्ट्री का प्रणाली संकलित किया उसी दिन मैं अपने यहूदी आस्था और अमेरिका के बुनियादी मूल्यों के लिए अपनी प्रतिबद्धता के कारण खुद को बतौर मुसलमान रजिस्टर करा लूंगा, क्योंकि मैं इस देश को वैसा ही महान देखना चाहता हूँ जैसा यह हमेशा से रहा है। ‘

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

न्यूज़ नेटवर्क समूह प्रदेश 18 के अनुसार व्हाइट हाउस में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के विशेष सहायक के रूप में काम करने वाले जोनाथन ग्रीन ब्लाट ने डोनाल्ड ट्रम्प को, स्टीफन बेनिन की बतौर चीफ ईस्ट्रेटेजिस्ट रखने पर भी आलोचना की। इसी के साथ हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि ‘एंटी डीफ़ामेशन लीग गंभीर और महत्वपूर्ण मुद्दों पर डोनाल्ड ट्रम्प और उनके प्रशासन के साथ मिलकर काम करने की इच्छुक है और हम उन्हें ऐसे मामलों पर जवाबदेह बनाएंगे।
गौरतलब है कि राष्ट्रपति अभियान के दौरान डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका में मुसलमानों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने, अमेरिकी मुसलमानों की वफादारी की परीक्षा लेने और उनमें से कुछ को निर्वासित करने की बात की थी।
एक मौका पर पिछले साल नवंबर में हालांकि उन्होंने यह भी कहा था कि ” मुसलमानों पर नजर रखने के लिए प्रत्येक मामले में उनके डेटाबेस प्रणाली स्थापित करूँगा ” लेकिन राष्ट्रपति चुने जाने के बाद कुछ दिन पहले डोनाल्ड ट्रम्प ने मुसलमानों के खिलाफ अपने इस रुख से एक बयान में यह कहते हुए पीछे हट गए कि उन्होंने मुसलमानों की रजिस्ट्री की बात पर कभी वकालत नहीं की।

TOPPOPULARRECENT