अगले सप्ताह जेरुसलम को इजराइल की राजधानी के रूप में मान्यता दे सकते हैं ट्रंप

अगले सप्ताह जेरुसलम को इजराइल की राजधानी के रूप में मान्यता दे सकते हैं ट्रंप
Click for full image

वाशिंगटन : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अगले सप्ताह जेरुसलम को इजराइल की राजधानी के रूप में मान्यता दे सकते हैं। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार श्री ट्रंप के इस कदम से अमेरिका की दशकों से चली आ रही नीति उलट जाएगी।

ट्रंप 06 दिसंबर को भाषण के दौरान इसकी घोषणा कर सकते हैं हालांकि अमेरिकी दूतावास को तेल अविव से जेरूसलम स्थानांतरिक करके के उनके चुनावी वादे को पूरा होने देरी हो सकती है। फिलीस्तीनी लोग जेरुसलम को अपनी भावी राजधानी के रूप में देखते हैं। अंतरराष्ट्रीय समुदाय यहूदियों, मुसलमानों और ईसाई धर्म के पवित्र स्थान पूरे जेरुसलम पर इजरायल के दावे को मान्यता नहीं देती।

ट्रंप की यह घोषणा अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपतियों की नीति से अलग होगी। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपतियों ने जेरुसलम के मुद्दे को आपसी बातचीत से हल करने के पक्ष में थे। ट्रंप की इस घोषणा से फिलीस्तीनी और खाड़ी देशों में नाराजगी बढ़ सकती है। ट्रंप इस कदम के जरिए उनको अमेरिका की राष्ट्रपति पद पर जीत दिलाने वाली इजराइली सरकार और मित्र देश को खुश करना चाहते हैं।

अमरीका में राष्ट्रपति पद के रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अगर चुनाव जीतकर व्हाइट हाऊस पहुंचा तो यरुशलम को इजराइल की अविभाजित राजधानी के रूप में मान्यता दूंगा। ट्रंप ने इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू से मुलाकात में कहा था कि राष्ट्रपति बनने के बाद यरुशलम को इजराइल की राजधानी के रूप में मान्यता दूंगा। दोनों नेताओं के बीच करीब 90 मिनट तक बातचीत हुई थी।

Top Stories