Sunday , December 17 2017

अगले साल से बढ़ेंगी हज यात्रियों की मुश्किलें, हज कमिटी ने की सब्सिडी ख़त्म

हज कमेटी ऑफ इंडिया हज-2018 में सब्सिडी खत्म कर रही है, जिसके कारण यात्रा 2 से 5 हजार रुपए महंगी हो जाएगी। हज यात्रा शुल्क में वृद्धि का बोझ यात्रियों को उठाना पड़ेगा।केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री 12 नवंबर को मुंबई हज हाउस में नई हज नीति तथा हज-2018 के कार्यक्रम की घोषणा करेंगे।

हज कमेटी के सदस्य हाजी इब्राहिम शेख के अनुसार, हज-2018 में यात्रियों को सब्सिडी नहीं मिलेगी। यात्रियों को पूरा शुल्क अदा करना होगा। नए शुल्क के अनुसार यात्री हज पर जा सकेंगे।वर्ष 2017 में नागपुर इंबार्केशन सेंटर से हवाई शुल्क 64 हजार 260 रुपए था और 2 हजार 200 रुपए की सब्सिडी दी गई थी।

वर्ष 2018 में सब्सिडी खत्म किए जाने पर नागपुर इंबार्केशन सेंटर से हवाई शुल्क 63 हजार रुपए, औरंगाबाद से 85 हजार रुपए और मुंबई से 52 हजार रुपए रहेगा।सेंट्रल तंजीम कमेटी के सचिव हाजी मो. कलाम ने बताया कि हज-2017 के लिए निजी टूर आपरेटर्स का कोटा कुल कोटे का 15 प्रतिशत था। सरकार ने हज-2018 के लिए निजी टूर आपरेटर्स के कोटे में 15 प्रतिशत वृद्धि कर इसे 30 प्रतिशत कर दिया है। इससे हज कमेटी का कोटा घट गया है।

 

TOPPOPULARRECENT