Thursday , November 23 2017
Home / Crime / अग़वा और इस्मतरेजी का मुल्ज़िम बरी

अग़वा और इस्मतरेजी का मुल्ज़िम बरी

नई दिल्ली 6 मार्च : एक तेज़गाम अदालत ने एक मुल्ज़िम को अग़वा और इस्मतरेजी के इल्ज़ामात से बरी कर दिया । अदालत ने दलील‌ पेश किया कि मुल्ज़िम ने जिस लड़की का मुबय्यना अग़वा और इस्मतरेजी की वो इससे मुहब्बत करता था और शादी का ख़ाहिशमंद था और

नई दिल्ली 6 मार्च : एक तेज़गाम अदालत ने एक मुल्ज़िम को अग़वा और इस्मतरेजी के इल्ज़ामात से बरी कर दिया । अदालत ने दलील‌ पेश किया कि मुल्ज़िम ने जिस लड़की का मुबय्यना अग़वा और इस्मतरेजी की वो इससे मुहब्बत करता था और शादी का ख़ाहिशमंद था और उसे इस्मतरेजी से इसलिए ताबीर नहीं किया जा सकता क्योंकि जिन्सी ताल्लुक़ात लड़की की मर्ज़ी से हम‌वार किए गए थे ।

एडीशनल सैशन जज टी आर नवाल जो तेज़ गाम अदालतों में आने वाले जिन्सी जराइम की समाअत करते हैं ने ग़ाज़ी आबाद के शहरी दीपक सिंह को तमाम इल्ज़ामात से बरी कर दिया ।

अदालत के मुताबिक़ इस्तिग़ासा ने लड़की की मर्ज़ी शामिल ना होने के इतमेनान बख़श सबूत फ़राहम नहीं किए जिन्हें नाकाफ़ी सबूतों से ताबीर किया जाएगा । जज ने लड़की के इस बयान का भी हवाला दिया जहां इसने कहा था कि वो मुल्ज़िम से मुहब्बत करती है और अदालत से दरख़ास्त करती है कि उनकी शादी करवा दी जाये क्योंकि वो सिर्फ़ मुल्ज़िम से ही शादी करना चाहती थी किसी और से नहीं!।

TOPPOPULARRECENT