Thursday , December 14 2017

अग़वा मुआमला : माविस्टों की मोहलत ख़त्म होने के बावजूद हुकूमत बे परवाह

मग़्विया इटालवी शहरी की रिहाई के लिए बातचीत के लिए माविस्टों की जानिब से दी गई मोहलत आज ख़तम हो रही है, लेकिन हुकूमत की जानिब से हनूज़ किसी भी रद्द-ए-अमल का इज़हार नहीं किया गया है।

मग़्विया इटालवी शहरी की रिहाई के लिए बातचीत के लिए माविस्टों की जानिब से दी गई मोहलत आज ख़तम हो रही है, लेकिन हुकूमत की जानिब से हनूज़ किसी भी रद्द-ए-अमल का इज़हार नहीं किया गया है।

इस तरह मग़्विया बी जे डी एम एल ए जीना हक्का का के बारे में भी सूरत-ए-हाल वाज़िह नहीं है। रियास्ती हुकूमत माविस्टों की नुमाइंदगी करने वाले मुसालहत कारों का नाम जानने की ख़ाहां है जबकि माविस्टों ने उनकी जानिब से किसी भी मुसालहत कार की तक़र्रुरी को मुस्तर्द कर दिया है।

इटालवी शहरीयों को 14 मार्च को अग़वा किया गया था। दोनों इटालवी शहरीयों में से एक कोलीनजीलो को 25 मार्च के रोज़ ही ख़ैरसिगाली के तौर पर रिहा कर दिया गया था जबकि हक्का का को माविस्टों के हरीफ़ ग्रुप ने 24 मार्च को उस वक़्त अग़वा किया था जब वो अपने घर लौट रहे थे।

TOPPOPULARRECENT