Saturday , December 16 2017

अडवानी और नीतीश कुमार की मुलाक़ात रिवायती, बी जे पी का रद्द-ए-अमल

बी जे पी ने आज अपने सीनियर लीडर एल के अडवानी की बिहार के चीफ़ मिनिस्टर नीतीश कुमार से गर्मजोशाना मुलाक़ात और ख़ैरसिगाली के तबादला की एहमियत को नजरअंदाज़ करते हुए उसको सियासी प्रोटोकॉल के तहत एक मेयारी रिवायत क़रार दिया।

बी जे पी ने आज अपने सीनियर लीडर एल के अडवानी की बिहार के चीफ़ मिनिस्टर नीतीश कुमार से गर्मजोशाना मुलाक़ात और ख़ैरसिगाली के तबादला की एहमियत को नजरअंदाज़ करते हुए उसको सियासी प्रोटोकॉल के तहत एक मेयारी रिवायत क़रार दिया।

बिहार के साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर सुशील कुमार मोदी ने इस मसला पर अख़बारी नुमाइंदों के एक सवाल पर जवाब दिया कि मुख़्तलिफ़ सियासी जमातों के क़ाइदीन के साथ‌ ख़ैरसिगाली का तबादला एक मामूल का अमल है जो मेयारी सियासी प्रोटोकॉल के तहत किया जाता है।

सुशील कुमार मोदी ने मज़ीद कहा कि सियासी हरीफ़ों को चाहिए कि वो ख़ैरसिगाली का तबादला जारी रखें और एक दूसरे से दूर रहने के अमल से अहितराज़ करें। मोदी ने कहा कि ये अच्छा ही हुआ कि बिहार के चीफ़ मिनिस्टर ने बी जे पी के ग्रुप बुज़ुर्ग रहनुमा (अडवानी) के क़रीब पहुंच कर ख़ैरसिगाली का तबादला किया।

TOPPOPULARRECENT