Saturday , December 16 2017

अडवानी और मोदी एक ही शहनशीन पर- दूरियां बरक़रार

भोपाल 26 सितंबर (सियासत डाट काम)

भोपाल 26 सितंबर (सियासत डाट काम)

सीनियर बी जे पी लीडर एल के अडवानी और नरेंद्र मोदी आज पहली मर्तबा एक ही शहनशीन पर दिखाई दिए। चीफ़ मिनिस्टर गुजरात नरेंद्र मोदी को पार्टी विज़ारत-ए-उज़्मा उम्मीदवार क़रार दिए जाने के बाद अडवानी ने बरसर-ए-आम अपनी नाराज़गी का इज़हार किया था, ताहम दोनों क़ाइदीन ने आज एक दूसरे को गर्मजोशी से मुबारकबाद दी।

इससे पहले नरेंद्र मोदी को बी जे पी पारलीमानी बोर्ड की जानिब से पार्टी तशहीरी मुहिम का सरबराह मुक़र्रर करने पर भी अडवानी ने नाराज़गी का इज़हार किया था लेकिन ऐसा लगता है कि अब उन्होंने हालात से समझौता करलिया है। अडवानी ने आज नरेंद्र मोदी और चीफ़ मिनिस्टर मध्य प्रदेश शिवराज सिंह चौहान को गुलदस्ते पेश किए। जब चौहान ने आगे बढ़ कर अडवानी का आशीर्वाद लेना चाहा तो उन्होंने गर्मजोशी का मुज़ाहरा किया जबकि नरेंद्र मोदी जब आशीर्वाद के लिए झुके तो अडवानी का रवैया बरअक्स था।

नरेंद्र मोदी मुल्क भर में पार्टी के आम जलसों से ख़िताब कर रहे हैं, लेकिन उन्हें विज़ारत-ए-उज़्मा उम्मीदवार मुंतख़ब करने के बाद ये पहला मौक़ा है कि अडवानी के साथ वो एक ही शहनशीन पर जमा हुए। अडवानी ने अपनी तक़रीर में कहा कि आज बी जे पी अगर इस मुक़ाम पर पहूँची है तो ये महेज़ तक़ारीर की बुनियाद पर नहीं बल्कि पार्टी कारकुनों की सख़्त मेहनत की वजह से मुम्किन होसका। उन्हों ने कहा कि महिज़ तक़ारीर के ज़रिया इंतिख़ाबात में कामयाबी हासिल नहीं की जा सकती बल्कि हमारे कारकुनों ने जो मेहनत की है, उस की बिना पर पार्टी कामयाबी हासिल कर सकती है। उन्हों ने साबिक़ा एन डी ए दौर-ए-हुकूमत और मुख़्तलिफ़ रियासतों में बी जे पी हुकूमतों की कारकर्दगी की सताइश की। उन्होंने नरेंद्र मोदी और चौहान के साथ-साथ चीफ़ मिनिस्टर छत्तीसगढ़ रमन सिंह की भी तारीफ़ की।

अडवानी ने बी जे पी के विज़ारत-ए-उज़्मा उम्मीदवार की मौजूदगी का खासतौर पर तज़किरा किया और कहा कि पार्टी ने उन्हें मुंतख़ब किया है। जलसा-ए-गाह में अवाम मोदी के नारे लगा रहे थे , जिस की बिना अडवानी ने अपनी तक़रीर जल्द ख़त्म करदी। नरेंद्र मोदी ने अपनी तक़रीर में कहा कि कांग्रेस ने 60 साल मुल्क पर हुकूमत की लेकिन उन्होंने कभी जामे तरक़्क़ी की बात नहीं सुनी। मोदी ने कहा कि जब बी जे पी ने बरसर-ए-इक़तिदार रियासतों में जामे तरक़्क़ी को यक़ीनी बनाया तो आज कांग्रेस भी जामे तरक़्क़ी की बात कर रही है। बी जे पी सदर राजनाथ सिंह ने करप्शन के मुक़द्दमात पर यू पी ए हुकूमत को शदीद तन्क़ीद का निशाना बनाया और कहा कि आज बी जे पी ,कांग्रेस से आगे हो चुकी है। उन्होंने कहा कि जब से यू पी ए इक़तिदार पर है , करप्शन और इफ़रात-ए-ज़र की शरह बढ़ती जा रही है। जिस वक़्त एन डी ए इक़तिदार पर थी , कोई ये नहीं कह सकता था कि इनका कोई लीडर बद उनवान है। उन्होंने कांग्रेस पर आर एस एस सरबराह मोहन भागवत को अजमेर बम धमाके मुक़द्दमे में माख़ूज़ करने की कोशिश का इल्ज़ाम आइद किया।

राजनाथ सिंह ने कहा कि उस वक़्त नरेंद्र मोदी ही वाहिद मुतबादिल हैं। बी जे पी लीडर उमा भारती ने अपनी तक़रीर में कहा कि आइन्दा इंतिख़ाबात के बाद नरेंद्र मोदी को वज़ीर-ए-आज़म बनने से कोई ताक़त नहीं रोक सकती।

TOPPOPULARRECENT