Wednesday , January 24 2018

अदलिया कानून नहीं बना सकती: काटजू

जयपुर, 14 जुलाई: इंडियन प्रेस कौंसिल के चेयरमैन मार्कंडेय काटजू ने हाल में सुप्रीम कोर्ट के दागी लीडरों के इलेक्शन लड़ने पर रोक के फैसले पर फिक्र जताए है। सुप्रीम कोर्ट के साबिक जस्टिस काटजू का कहना है कि इस फैसले पर फिर से गौर करना

जयपुर, 14 जुलाई: इंडियन प्रेस कौंसिल के चेयरमैन मार्कंडेय काटजू ने हाल में सुप्रीम कोर्ट के दागी लीडरों के इलेक्शन लड़ने पर रोक के फैसले पर फिक्र जताए है। सुप्रीम कोर्ट के साबिक जस्टिस काटजू का कहना है कि इस फैसले पर फिर से गौर करना चाहिए, क्योंकि अदलिया कानून नहीं बना सकती।

जयपुर में एक प्रोग्राम के बाद काटजू ने सहाफियों से कहा, ‘इस फैसले पर मुझे कुछ ऐतराज़ हैं। इसकी नज़रेसानी होनी चाहिए। कानून बनाना मुक़न्निना (Legislature) का काम है। अदलिया इसे लागू करने पर जोर दे सकती है, लेकिन वह कानून नहीं बना सकती। यहां मुझे लगता है कि अदलिया , मुकन्निना का काम कर रही है।’ उन्होंने कहा कि आईन ने अदलिया, मक़न्निना और आमला/इंतेज़ामिया का पावर सेक्टर मुकर्रर किया है।

उन्हें एक दूसरे के काम में दखल नहीं करना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने बुध के दिन निज़ाम दिया था कि चुने हुए नुमाइंदे अगर खाती करार दिए जाते हैं और ऊपर की अदालत में अपील करते हैं तो वे अपने ओहदे पर नहीं बने रह सकते। कोर्ट ने कहा था कि खाती ठहराए जाने की तारीख से उन्हें कानून बनाने के नाअहल माना जाएगा।

TOPPOPULARRECENT