Monday , December 18 2017

अदालत ने मसर्रत को रिहा करने का दिया हुक्म

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के कट्टर अलहैदगीपसंद लिईडर मसर्रत आलम की फिर रिहाई हो सकती है। जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट ने मसरत की हिरासत रद्द करते हुए उसकी रिहाई का हुक्म दिया है।

अदालत ने कहा कि मसर्रत के खिलाफ पब्लिक सेफ्टी ऐक्ट (PSA) की जो दफआत लगाई गई थीं, वे सही नहीं हैं। हाई कोर्ट ने साथ ही जम्मू कश्मीर सरकार को हिदायत देते हुए कहा है कि मसरत की रिहाई जल्द से जल्द होनी चाहिए

मसर्रत आलम को अप्रैल में एक रैली के दौरान हिंद मुखालिफ नारे और पाकिस्तानी झंडा लहराने के इल्ज़ाम में गिरफ्तार किया गया था।

इससे पहले जम्मू-कश्मीर की बीजेपी-पीडीपी सरकार के इक्तेदार में आने के कुछ दिन बाद मसर्रत को रिहा किया था, जिस पर खूब बवाल हुआ था। मसरत पर क़ौम मुखालिफ सरगर्मियों में शामिल होने के करीब 27 मामले दर्ज हैं।

TOPPOPULARRECENT