Friday , December 15 2017

अनटोनी के बयान से चांडी हुकूमत को राहत

वज़ीर-ए-दिफ़ा ए के अनटोनी के चुभते हुए तबसरों के बाद कांग्रेस ज़ेर क़ियादत यू डी एफ़ हुकूमत ने केराला में इतमीनान की सांस ली जबकि ख़ुद सीनीयर क़ाइद ने कहा कि बहुत ज़्यादा सियासत उन के तबसरों में तलाश नहीं की जानी चाहीए ।

वज़ीर-ए-दिफ़ा ए के अनटोनी के चुभते हुए तबसरों के बाद कांग्रेस ज़ेर क़ियादत यू डी एफ़ हुकूमत ने केराला में इतमीनान की सांस ली जबकि ख़ुद सीनीयर क़ाइद ने कहा कि बहुत ज़्यादा सियासत उन के तबसरों में तलाश नहीं की जानी चाहीए ।

मुक़ामी यू डी एफ़ के हलक़ों का एहसास था कि अनटोनी के अलफ़ाज़ शुमाली केराला के इलाके का सर गुरू में एच ए एल के कारख़ाने की इफ़्तिताही तक़रीब के दौरान कल चांडी हुकूमत केलिए राहत रसानी का सबब बनें ।

ओमन चांडी ने अनटोनी के बयान पर इतमीनान की सांस ली। गुज़शता हफ़्ते अपनी तन्क़ीदी तक़रीर में ए के अनटोनी ने ब्रह्मोस कारख़ाने में जो तबसरे किए थे उन्हें चांडी की वज़ारत पर इन का वाज़िह इज़हार-ए-नाराज़गी समझा गया था । अनटोनी ने कहा था कि रियासत में दिफ़ा से मुताल्लिक़ प्रोजेक्टस के क़ियाम केलिए मुनासिब माहौल मौजूद नहीं है ।

उन्होंने कहा कि सिर्फ़ यू डी एफ़ अप्पोज़ीशन ही नहीं बल्कि कांग्रेस में नाराज़ हलक़ों ने भी अनटोनी की तक़रीर की ग़लत तावील की थी और उसे चांडी हुकूमत की कारकर्दगी पर तन्क़ीद ज़ाहिर किया था । चांडी हुकूमत देढ़ साल पहले बरसर‍ ए‍ इक्तेदार आई है ।

TOPPOPULARRECENT