Saturday , May 26 2018

अन्नाहज़ारे की ग़ैर मुअय्यना मुद्दत मौन बरत का आग़ाज़

रालीगावं सिद्धि /17 अक्तूबर (पी टी आई) रिश्वत सतानी के ख़िलाफ़ जारी मुहिम के हिस्सा के तौर पर उन की टीम तनाज़ा का शिकार होने के बाद अन्नाहज़ारे ने ग़ैर मुअय्यना मुद्दत का मौन बरत शुरू करदिया। महाराष्ट्रा के अपने आबाई वतन में आत्मा शांति

रालीगावं सिद्धि /17 अक्तूबर (पी टी आई) रिश्वत सतानी के ख़िलाफ़ जारी मुहिम के हिस्सा के तौर पर उन की टीम तनाज़ा का शिकार होने के बाद अन्नाहज़ारे ने ग़ैर मुअय्यना मुद्दत का मौन बरत शुरू करदिया। महाराष्ट्रा के अपने आबाई वतन में आत्मा शांति के लिए मौन रख रहे हैं। अन्नाहज़ारे के क़रीबी साथी दत्ता अवीरी ने बताया कि अन्नाहज़ारे ने अपना ग़ैर मुअय्यना मुद्दत का मौन बरत आज सुबह शुरू करदिया। वो ख़ामोश बैठे रहो के तहत यहां पद्मावती मंदिर के क़रीब एक दरख़्त के नीचे ख़ामोशी के साथ बैठ गए हैं। उन्हों ने क़ब्लअज़ीं कहा था कि 74 साला अन्नाहज़ारे एक हफ़्ता के लिए मौन बरत रखेंगे। बादअज़ां उन्हों ने वज़ाहत की कि इन का ये मौन बरत ग़ैर मुअय्यना मुद्दत के लिए होगा। इंसिदाद रिश्वत सतानी के एक और रुकन श्याम उस्वा ने कहा था कि अन्नाहज़ारे सिर्फ एक हफ़्ता के लिए मौन बरत रखेंगी। दत्ता अवीरी ने बताया कि अन्ना हज़ारे एक झोंपड़ी में बैठ कर मौन बरत कर रहे हैं। 28 अगस्त को दिल्ली में एक मज़बूत लोक पाल बिल बनाने के लिए 13 रोज़ा बरत ख़तन करने के बाद वो मुसलसल अवाम से राबिता रखे हुए थे। इस से उन के ज़हन पर काफ़ी दबाव बढ़ गया था, इस लिए वो अपनी आत्मा की शांति के लिए मौन बरत रख रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT