Wednesday , December 13 2017

IS अपहृत यज़ीदी लड़की की कहानी पर आधारित फिल्म “दि डार्क विंड” को सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार

दुबई: दुबई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फ़ेस्टिवल में एक कुर्द इराकी फिल्म को सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार दिया गया है। इस फिल्म की कहानी एक यज़ीद लड़की की कठिनाइयों के आसपास घूमती है जिसे आईएस ने बंधक बना लिया था।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

डी डब्ल्यू की खबरों के अनुसार ‘दि डार्क विंड’ के नाम से बनाई जाने वाली इस फिल्म में कुर्द फिल्म निर्देशक हुसैन हसन ने पीरु और उसकी मंगेतर रिको की कहानी बयान की है। यह नौजवान जोड़ा अपनी शादी की तैयारी में व्यस्त होता है कि अचानक आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के लड़ाके उनके गांव पर हमला कर देते हैं।

आईएस के चरमपंथी लोग पेरू सहित गांव से यज़ीदी लड़कियों का अपहरण कर लेते हैं लेकिन रीको जो एक अमेरिकी तेल कंपनी में बतौर सिक्योरिटी गार्ड काम करता है, आईएस लड़ाकों के हमले में बच निकलता है। परेशानहाल रीको अपनी मंगेतर और अपने परिवार की खोज में निकलता है।
गौरतलब है कि अगस्त 2014 में इस्लामिक स्टेट ने इराक के क्षेत्र संजार पर कब्जे के बाद हजारों यज़ीदी पुरुषों की हत्या और हजारों यज़ीदी महिलाओं का अपहरण करके सेक्स वर्कर बना लिया था।

92 मिनट की यह फीचर फिल्म इराक, जर्मनी और क़तर के संयुक्त उत्पादन थी। फिल्म का प्रीमियर अमीरात के वार्षिक सिनेमा समारोह में पेश किया गया। ‘दि डार्क विंड’ की तुलना में सत्रह फिल्में थीं।

गौरतलब है कि अबू धाबी में होने वाले फिल्म महोत्सव के दो साल पहले अंत के बाद से दुबई फिल्म महोत्सव अरब दुनिया में फिल्मों के लिए एक महत्वपूर्ण क्षेत्रीय मंच बन गया है।

TOPPOPULARRECENT