Friday , December 15 2017

अपोलो हॉस्पिटल्स में गुर्दॆ की पेचीदा पैवन्दकारी

हैदराबाद ।।०८ फरवरी : ( सियासत न्यूज़ ) : अपोलो हॉस्पिटल्स के डॉक्टर्स ने आज गुर्दा नकारा होने के एक 49 साला मरीज़ पर मार जैनुल डीसीसड डोनर टरांसपलांटेशन के एक पेचीदा केस को अंजाम दिया ।

हैदराबाद ।।०८ फरवरी : ( सियासत न्यूज़ ) : अपोलो हॉस्पिटल्स के डॉक्टर्स ने आज गुर्दा नकारा होने के एक 49 साला मरीज़ पर मार जैनुल डीसीसड डोनर टरांसपलांटेशन के एक पेचीदा केस को अंजाम दिया ।

मार जैनुल डीसीड डोनर टरांसपलांटेशन का मतलब मुर्दनीछा रही डोनर से गर्दा निकालने के बाद 24 घंटे से ज़्यादा ताख़ीर से गर्दा की पैवन्दकारी है । डाक्टर सुब्रामणियम , कन्सलटैंट ट्रांसप्लांट सर्जन , डाक्टर तरूण कुमार सहा , कन्सलटैंट नीफ़रोलोजसट की ज़ेर क़ियादत डॉक्टर्स की टीम ने कहा कि वेल्लौर , टामल नाडो के 49 साला मरीज़ पी जानकी रामिया को ज़ियाबीतस और गुर्दे नाकारा होने से मुतास्सिर था और‌ गुज़शता चार साल से डईलाइसीस पर था दो गुर्दे मिलने से नई ज़िंदगी मिली है । इस के डोनर एक 67 साला शख़्स थे जो सी एमसी वेल्लौर में ब्रैंडेड थे

TOPPOPULARRECENT