Wednesday , December 13 2017

अफजल गुरु के अवशेष की मांग करने को लेकर यासीन मलिक समेत 6 गिरफ्तार

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के अध्यक्ष मोहम्मद यासीन मलिक समेत छह लोगों को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया। जेकेएलएफ के एक प्रवक्ता ने बताया कि यासीन मलिक को शुरू में कोठीबाग थाने ले जाया गया। उसके बाद उन्हें 15 फरवरी तक की रिमांड पर केंद्रीय कारागार भेज दिया गया।

खबरों के मुताबिक यासीन मलिक की यह गिरफ्तारी मोहम्मद मकबूल भट और संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु के अवशेषों की मांग करने को लेकर किया गया। उन पर आरोप है कि उन्होंने राज्य की राजधानी में मार्च निकालने की कोशिश की।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, यासिन मलिक जुमे की नमाज के बाद सराय बाला में एक मस्जिद से लाल चौक तक मार्च निकालने के लिए निकले थे तभी पुलिस ने उन्हें बीच में रोककर हिरासत में ले लिया।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि यालिक मलिक को साथियों मुहम्मद यासीन बट, गुलाम मुहम्मद डार, इम्तियाज अहमद और बशरत अहमद के साथ हिरासत में लिया गया। उसके बाद तहरीक-ए-हुर्रियत के नेता गाजी जावेद बाबा को भी हिरासत में ले लिया गया।

गौरतलब है कि अफजल गुरु को 9 फरवरी 2013 को दिल्ली में तिहाड़ जेल के अंदर फांसी दे दी गई थी। वहीं जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के संस्थापक मोहम्मद मकबूल भट को 11 फरवरी 1984 को तिहाड़ में फांसी दिया गया था और अंदर ही दफन कर दिया गया था। हर साल कश्मीर के अलगावादी नेता दोनों के बरसी मनाते है।

TOPPOPULARRECENT