Tuesday , January 16 2018

अफ़्ग़ानिस्तान में अमरीकी स्पलाई का उज़बेकिस्तान पर ज़्यादा इन्हिसार

न्यूयार्क । 2 दिसमबर( एजैंसीज़ ) ओबामा इंतिज़ामीया को पाकिस्तान से कशीदा ताल्लुक़ात की बेहतरी के इक़दामात करने चाहिऐं। सी आई ए ने अप्रैल में ड्रोन ऑप्रेशन को ख़ामोशी के साथ अफ़्ग़ानिस्तान मुंतक़िल करदिया था। अफ़्ग़ानिस्तान मे

न्यूयार्क । 2 दिसमबर( एजैंसीज़ ) ओबामा इंतिज़ामीया को पाकिस्तान से कशीदा ताल्लुक़ात की बेहतरी के इक़दामात करने चाहिऐं। सी आई ए ने अप्रैल में ड्रोन ऑप्रेशन को ख़ामोशी के साथ अफ़्ग़ानिस्तान मुंतक़िल करदिया था। अफ़्ग़ानिस्तान में अमरीकी स्पलाई का इन्हिसार ज़्यादा तर उज़बेकिस्तान पर है। ये बात अमरीकी अख़बार बोस्टन ग्लोब ने अपने ईदारीए में लिखी है।

अख़बार के मुताबिक़ नाटो के फ़िज़ाई हमले में गुज़शता हफ़्ते 24पाकिस्तानी फ़ौजीयों की हलाकत पर पाकिस्तान में गहिरा दुख और ग़म वाज़ेह तौर पर देखने में आरहा है। अख़बार के मुताबिक़ पाकिस्तान में ग़ैर मुल्की न्यूज़ चैनल्स पर पाबंदी , अफ़्ग़ानिस्तान के मुस्तक़बिल पर बाण बैन-उल-अक़वामी कान्फ़्रैंस में शिरकत से इनकार, शमसी एयर बीस से अमरीकी अहलकारों का इख़राज और अफ़्ग़ानिस्तान में इत्तिहादी अफ़्वाज की स्पलाई रोकने जैसे इक़दामात नज़र आई।

ये वाज़ेह है कि अमरीका और पाकिस्तान के तवील कशीदा ताल्लुक़ात इंतिहाई हदों को छू रहे हैं लेकिन ये भी इतना ही वाज़ेह है कि अमरीका और पाकिस्तान को अब भी एक दूसरे की बहुत ज़रूरत है। अख़बारके मुताबिक़ ओबामा इंतिज़ामीया को इन ताल्लुक़ात को मुस्तक़िल तबाही से बचाने की कोशिश करनी चाहिये ।

TOPPOPULARRECENT