Sunday , December 17 2017

अफ़्ग़ान जंग के मुख़ालेफ़ीन को मुज़ाहरा करने की इजाज़त

नाटो सरबराह कान्फ़्रैंस के दौरान एहितजाजी जलूस की इजाज़त है। क़ब्ल अज़ीं इस शहर ने 20 मई को जलूस निकालने की इजाज़त देने से इनकार करदिया था और कहा था कि इस मार्च से ट्रैफ़िक में ख़लल पड़ेगा ओर पुलिस का ख़र्च बढ़ेगा। मगर कल जब जलूस न

नाटो सरबराह कान्फ़्रैंस के दौरान एहितजाजी जलूस की इजाज़त है। क़ब्ल अज़ीं इस शहर ने 20 मई को जलूस निकालने की इजाज़त देने से इनकार करदिया था और कहा था कि इस मार्च से ट्रैफ़िक में ख़लल पड़ेगा ओर पुलिस का ख़र्च बढ़ेगा। मगर कल जब जलूस निकालने वाले रज़ाकार वफ़ाक़ी अदालत में मुक़द्दमा दायर करने वाले थे, इंतिज़ामीया ने लचकदार मौक़िफ़ इख़तियार किया और कहा कि वो एक दिन मुज़ाहरा करने की इजाज़त दे देगी।

रज़ाकारों को उम्मीद है कि दस हज़ार लोग अफ़्ग़ानिस्तान में जंग की मुख़ालिफ़त में आवाज़ उठाएंगे। एहितजाजी लीडर एंडी थेवर ने बताया कि अब मुज़ाहिरीन मुज़ाफ़ात में मार्च कर सकेंगे और फिर वो कनवेनशन सेंटर के नज़दीक जलसा मुनाक़िद करेंगे जहां सदर बारक ओबामा और नाटो लीडर इजलास मुनाक़िद करने वाले हैं।

TOPPOPULARRECENT